अनुपम खेर ने शशि थरूर से पछा- आपकी सोच को क्या हुआ? संगत का इतना बुरा असर

New Delhi : बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर ने कांग्रेसी नेता और सांसद शशि थरूर के एक ट्वीट को लेकर उनकी सोच पर सवाल उठाये हैं। अपने इस ट्वीट में थरूर ने कश्मीर में अलगाववादियों के हाथों मारे गये इकलौते कश्मीरी पंडित सरपंच को सिर्फ एक कांग्रेसी कार्यकर्ता की हत्या बताया था। जिसके बाद खेर ने उनसे पूछा कि आपकी सोच को क्या हो गया है? थरूर की ट्वीट पर नाराजगी जाहिर करते हुए अनुपम ने लिखा- ओ प्रिय शशि थरूर, आप इतने पढ़े-लिखे व्यक्ति हैं। आपकी सोच को क्या हो गया है? इस परिदृश्य में जब कोई आतंकवादी कश्मीर से कन्याकुमारी तक किसी को भी मारता है, तो वो एक भारतीय को मार रहा है, ना कि किसी राजनीतिक दल के सदस्य को। कितना तोड़-मरोड़कर बात कही है। संगत का इतना बुरा असर।

अनुपम ने ये तीखी प्रतिक्रिया पूर्व केंद्रीय मंत्री और केरल की तिरुवनंतपुरम सीट से कांग्रेसी सांसद शशि थरूर के उस ट्वीट पर दी, जिसमें उन्होंने इकलौते कश्मीरी पंडित सरपंच अजय पंडिता की हत्या को एक कांग्रेसी की हत्या बताया था। अपने ट्वीट में थरूर ने लिखा था- धर्मनिरपेक्षता और लोकतंत्र के लिए खड़े होने के चलते कश्मीर से केरल तक कांग्रेसियों की हत्याएं हो रही हैं। संदेश साफ है, आइडिया ऑफ इंडिया के सभी दुश्मन कांग्रेस मुक्त भारत चाहते हैं।
इससे पहले सोमवार 8 जून की शाम को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकियों ने प्रदेश के इकलौते कश्मीरी पंडित सरपंच अजय पंडिता की गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस के मुताबिक ये वारदात शाम करीब छह बजे हुई थी, जब आतंकियों ने जिले के लारकीपुरा के लकबावन इलाके के सरपंच और कांग्रेस सदस्य अजय पंडित को पीछे से सिर में गोली मारी थी।
इस वारदात के बाद भी अनुपम ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा था- अनंतनाग में हुई इकलौते कश्मीरी पंडित सरपंच अजय पंडिता की निर्मम हत्या से बहुत दुखी और गुस्सा हूं। उनके परिवार के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। इस मामले में संदिग्धों ने भी चुप्पी साध ली है, अन्यथा वे छाती पीट-पीटकर आंसू बहाते हैं। वीडियो में उन्होंने कहा – कश्मीर में फिर से नब्बे का दशक दोहराया जा रहा है। इस घटना पर उन बुद्धिजीवियों की चुप्पी हैरान करती है, जो कश्मीर में आतंकियों की मौत पर छाती पीटते हैं और कहते हैं कि देखो अन्याय हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five + four =