आंध्र प्रदेश के पूर्व सांसद व मंत्री वाईएस विवेकानंद रेड्डी का निधन,दिल का दौरा पड़ने से गई जान

New Delhi: आंध्र प्रदेश में राज्य के कृषि मंत्री रहे वाईएस विवेकानंद रेड्डी का देर रात दिल का दौरा पड़ने के कारण निधन हो गया। वे 68 वर्ष के थे। बताया जा रहा है कि जिस वक्त उनकी जान गई उस दौरान वे अपने पुलिवेंदुला स्थित आवास पर थे।

Quaint Media,Quaint Media consultant pvt ltd,Quaint Media archives,Quaint Media pvt ltd archives,Live India Hindi,Live News

आपको बता दें, वाईएस विवेकानंद रेड्डी का जन्म 1 अप्रैल 1950 को हुआ था। उन्होंने ए. पी. कृषि विश्विद्यालय के एस. वी. राजकीय कॅालेज से कृषि स्नातक की पढ़ायी की थी। उन्होंने जिला स्तर पर कई सगंठनों और समितियों में सक्रिय भूमिका निभायी। इसके बाद वे 1989 और 1994 में दो बार पुलिवेंदुला निर्वाचन क्षेत्र में विधानसभा के सदस्या के रुप में चुने गए, फिर साल 1999 के चुनाव में कडपा की लोकसभा सीट से सांस चुने गए और इसके बाद साल 2004 के चुनाव में दोबारा 14वीं लोकसभा में जीत हासिल की।

इसके बाद विवेकानंद रेड्डी को साल 2009 में आंध्र प्रदेश विधान परिषद के सदस्य के रूप में चुना गया था।वहीं वाईएस विवेकानंद रेड्डी के निधन की खबर सुनकर राजनीतिक जगत में शोक की लहर दौड़ गई। साथ ही लोगों ने इसके लिए गहना दुख भी जताया। वहीं पार्टी के सासंद वी विजयसाई रेड्डी ने भी वाईएस विवेकानंद रेड्डी की निधन पर गहरा शोक जताया।

साथ ही उन्होंने शोक संदेश जताते हुए कहा कि विवेकानंद रेड्डी एक शांत स्वभाव के व्यक्ति थे। इसके अलावा वे हमेशा ही लोगों के साथ मिलजुल रहने वाले और दूसरे की सहायता करने वाले शख्स थे। भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करेंगे।