योगीराज : प्रदेश में क्वारैंटाइन खत्म होने के बाद 21 जमातियों को जेल भेजा, 17 विदेशी नागरिक शामिल

New Delhi : उत्तर प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या रविवार को 480 हो गई। इसमें 264 लोग तबलीगी जमात से हैं। वहीं शनिवार को बहराइच में 21 जमातियों का क्वारैंटाइन खत्म होने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है। इसमें इंडोनेशिया और थाईलैंड मूल के जमाती भी शामिल हैं। सरकार ने रामपुर से सपा सांसद आजम खान के जौहर विश्वविद्यालय को टेकओवर कर लिया है। अब वहां क्वारैंटाइन सेंटर बनाया जाएगा।

प्रतीकात्मक फोटो : जमाती जगह जगह उत्पात कर रहे हैं। गाजियाबाद में नंगे घूमने लगते हैं।


उत्तर प्रदेश में अब तक आगरा में 104, लखनऊ में 32, गाजियाबाद में 27, गौतमबुद्धनगर (नोएडा) में 64, लखीमपुर खीरी में 4, कानपुर नगर में 9, पीलीभीत में 2, मुरादाबाद में 1, वाराणसी में 9, शामली में 17, जौनपुर में 4, बागपत में 5, मेरठ में 48, बरेली में 6, बुलन्दशहर में 11, बस्ती में 9, हापुड़ में 6, गाजीपुर में 5, आज़मगढ़ में 4, फिरोजाबाद में 11, हरदोई में 2, प्रतापगढ़ में 6, सहारनपुर में 21, शाहजहांपुर में 1, बांदा में 2, महराजगंज में 6, हाथरस में 4, मिर्जापुर में 2, रायबरेली में 2, औरैया में 3, बाराबंकी में 1, कौशाम्बी में 2, बिजनौर में 1, सीतापुर में 10, प्रयागराज में 1, मथुरा में 2 व बदायूं में 2, रामपुर में 6, मुजफ्फरनगर में 4, अमरोहा में 7 व भदोही में एक कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव मिला है। अभी तक 45 मरीजों को छुट्टी दी जा चुकी है।
उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने रविवार को बताया कि प्रदेश में 480 कोरोना संक्रमित हैं। इनमें 45 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। कोरोना का संक्रमण 41 जिलों में है। राज्य में 931 वेंटिलेटर की व्यवस्था है। अभी तक आइसोलेशन में 576 मरीजों को भर्ती किया गया है जबकि 8084 लोग क्वारैंटाइन किए गए हैं। 80 फीसदी संक्रमण के मामले हॉटस्पॉट इलाकों से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि 15 जिलों में 133 हॉटस्पॉट चिह्नित किए गए हैं। जहां 10 लाख 61 हजार की आबादी रह रही है। अवस्थी ने कहा कि कालाबाजारी को लेकर अब तक 15378 एफआईआर दर्ज की गई है। प्रदेश में डोर टू डोर सामानों की डिलीवरी हो रही है।
लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज में भर्ती ढाई साल के बच्चे ने कोरोना के खिलाफ जंग जीत ली है। सिर्फ पांच दिनों में बच्चा पूरी तरह से ठीक हो गया और उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। खास बात यह है कि बच्चे ने बिना किसी दवा के ही कोरोना को मात दी है। बच्चे का इलाज करने वाले डॉ. डी. हिमांशु ने बताया कि दवाओं से बच्चे को साइड इफेक्ट्स हो सकते थे। ऐसे में महज डाइट के दम पर बच्चे को ठीक किया गया। तीन दिन तक बच्चे को कोई दवा नहीं दी गई। उसे दलिया, खिचड़ी और दूध की खीर जैसी डाइट दी और कुछ फल व जूस भी दिए।
दक्षिण अफ्रीका से लौटे इंजीनियर को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। फतेहपुर के खागा थाना क्षेत्र निवासी राजेन्द्र साउथ अफ्रीका के प्राइवेट कंपनी में इंजीनियर हैं। साउथ अफ्रीका से 21 मार्च को दिल्ली पहुंचे थे। और पुलिस प्रशासन को कोई जानकारी नहीं दी। कोरोनावायरस संक्रमण की रोकथाम और उपचार को लेकर प्रशासन ने सांसद आजम खां के जौहर विश्वविद्यालय का अधिग्रहण कर लिया है। यहां कोरोना मरीजों को क्वारैंटाइन और आइसोलेट किया जाएगा। इससे पहले शुक्रवार को ही प्रशासन ने जिले के 9 निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम को टेकओवर कर लिया था।
कानपुर के मुंशी पुरवा की बिलाल मस्जिद से 14 जमाती पकड़े गए हैं। इसके साथ जमातियों के संपर्क में आने वाले तीन लोगों को भी पकड़ा गया है। सभी के सैंपल लेकर लखनऊ जांच के लिए भेजे गए हैं। बिलाल मस्जिद में 13 जमाती ललितपुर के रहने वाले हैं, वहीं एक जमाती जालौन का रहने वाला है। झांसी के एक गांव में डंडा लेकर महिलाएं पहरेदारी कर रही हैं। सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के लहर गिर्द गांव में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। इसके लिए महिलाओं ने 5 समूह बनाए हैं। ये 3-3 घंटे की पहरेदारी करती हैं। बहराइच की मस्जिदों में रुके 21 जमातियों को क्वारैंटाइन पूरा होने के बाद आज जेल भेज दिया गया। इनमें चार भारतीय, सात थाईलैंड के और 10 इंडोनेशिया मूल के जमाती शामिल हैं। इन सभी की कोरोनावायरस जांच की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन सभी पर महामारी अधिनियम सहित विभिन्न धराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। शनिवार को सभी 21 जमातियों को रिमांड मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। यहां से उनको जेल भेज दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two + one =