योगी ने दी जन्माष्टमी की शुभकामनाएं, कहा- कृष्ण का जन्म अत्याचार खत्म करने की प्रेरणा देता है

New Delhi : श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है। जन्माष्टमी को प्रमुख त्योहारों में माना जाता है । इस दिन पालनहार विष्णु ने श्रीकृष्ण के रूप में आठवां अवतार लिया था। देश में ही नहीं विदेशों में भी जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। वहीं कृष्ण के जन्मस्थान मथुरा में भव्य तरीके से इसका आयोजन किया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देशवासियों को जन्माष्टमी की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि, “भगवान श्री कृष्ण का जन्म धर्म की स्थापना एवं अधर्म,अन्याय तथा अत्याचार समाप्त करने की प्रेरणा देता है। भगवान श्री कृष्ण ने गीता के माध्यम से ज्ञान, कर्म एवं भक्ति योग का जो संदेश दिया, उसकी प्रासंगिकता शाश्वत है।”

मुख्यमंत्री  आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर में कृष्ण जन्मोत्सव का पर्व धूमधाम से मनाया। इस दौरान वह कई बच्चों से मिले और उन्हें प्रसाद का वितरण किया। योगी ने इस दौरान बच्चों को पुरस्कृत भी किए। उन्होंने बच्चों को गुड़िया दिया। बच्चे गुड़िया पाकर खुश हो गए। बता दें कि आज यानि  24 अगस्त को मुख्यमंत्री मथुरा में दही हांडी कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे। मुंबई की एक मंडली को दही हांडी कार्यक्रम के लिए विशेष रूप से आमंत्रित किया गया है। वहीं प्रधामनंत्री मोदी ने भी देशवासियों को जन्माष्टमी की बधाई देते हुए लिखा जय श्री कृष्ण।

24 अगस्त को इस पर्व के उपलक्ष्य पर झांकी निकाली जाएंगी। आज बॉलीवुड के लोकप्रिय गीतकार शंकर महादेवन भी मथुरा के रामलीला ग्राउंड में परफॉर्म कर सकते हैं। वहीं 25 अगस्त को पद्मश्री अनूप जलोटा का भजन गायन निश्चित किया गया है।  शुभकामनाओं के इस दौर में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी पीछे नहीं रहे। उन्होंने भी देशवासियों को कृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनाएं दी।