भारत के सुधरे हालात व्यापार करने में आसानी की वर्ल्ड बैंक रैंकिंग में पहले 20 देशों में बनाई जगह

New Delhi : वर्ल्ड बैंक ने अपनी रिपोर्ट में इज ऑफ डुइंग बिजनेस यानि बिजनेस करने में आसानी की रैंकिंग में भारत का स्कोर बेहतर बताया है। वर्ल्ड बैंक के इस सर्वे में चार एरिया पर सर्वे किया गया था जैसे नया बिजनेस शुरू करना, आम परेशानिओं को दूर करना, बॉर्डर के आर – पार व्यापार करना और कंस्ट्रक्शन के लिए परमिशन मिलना। इन चारों एरिया को नज़र में रख कर देशों को स्कोर दिया गया था जिसमें भारत ने इंप्रूवमेंट दिखाई है।

बढ़ता भारत होता विकास।
बढ़ता भारत होता विकास।

वर्ल्ड बैंक ने पहले 20 देशों की लिस्ट जारी की है। इन देशों ने समय के साथ विकास दिखाया है। सभी एरिया में इनकी इंप्रूवमेंट ज्यादा है। लघु और बड़ी इंटरप्राइजे़ज के लिए बनाई नीतियों ने बिजनेस को आसान बना दिया है। पहले भारी भरकम फीसों के चलते काम मुश्किलें बढ़ जाया करती थीं।

हाउसफुल 4 में दिखी गेम ऑफ थ्रोन्स, सेक्रेड गेम्स की मिलावट, क्या दर्शक कर पाएंगे इसे हजम

सरकारी संगठनों के मिल जाने से चीजें पारदर्शी हो गई हैं, व्यापरियों को सब ऑनलाइन उपलब्ध हो जाता है। सिंगल विंडो सिस्टम ने चीजों को सरल कर दिया है।

2018 में भारत 23 रैंक ऊपर पहुंचा था। 2017 में ये 100वें नंबर पर था। 2016 से उसने 30 रैंक का सुधार दिखाया था। सरकार भारत को टॉप 50 में देखना चाहती थी। भारत की सुधरती रैंक से GDP में सुधार की उम्मीदें दिखी हैं। भारत के पड़ोसी देशों का भी प्रदर्शन सुधरा है। पाकिस्तान ने 6 रैंक सुधारी है वहीं चीन, म्यंमार औऱ बांग्लादेश सबसे बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। भारत की रैंक सुधार के पीछे 2003-04 की बिजनेस नीतियां हैं।