श्री कृष्ण के मंदिर में महिला ने दान किए सवा करोड़ रुपए, देखकर चौंक गए लोग

New Delhi : राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले के मंडफिया स्थित सांवलिया सेठ के दरबार में एक महिला द्वारा दिया गया करोड़ों का दान लोगों को चौंका रहा है। करीब सवा करोड़ नकदी के दान का अनुमान लगाया जा रहा है। कैश फ्री इंड‍िया के जमाने में लाखों के कैश का दान अचरज का व‍िषय बना हुआ है।

जलझूलनी मेले के आखरी दिन सांवलिया सेठ के विग्रह को बाहर लाकर बेवाण में विराजित करने की तैयारी की जा रही थी। उस दौरान एक श्रद्धालु महिला एक बैग लेकर मंदिर पहुंची और सांवरा के दर्शन करते हुए बैग से नकदी में ल‍िपटे लिफाफों को एक-एक करके दानपात्र में डालना शुरू किया।

पहली बार महिला दान दाता द्वारा चढ़ावे के इस दृश्य को देख कर सभी की निगाहें उसी पर टिकी रह गई। करीब 50 से अधिक नगदी से भरे लिफाफे महिला ने दानपात्र में डाल दिए। हालांकि महिला श्रद्धालु की पहचान नहीं हो पाई लेकिन माना जा रहा है कि यह महिला इंदौर क्षेत्र की निवासी हो सकती है जिसने करीब सवा करोड़ की नकदी दान पात्र में चढ़ाई है। महिला के नकदी डालने का वीडियो भी तेजी से वायरल हो गया है।

भगवान श्री सांवलिया सेठ का संबंध मीरा बाई से बताया जाता है। किंवदंति‍यों के अनुसार, सांवलिया सेठ मीरा बाई के वही गिरधर गोपाल हैं, जिनकी वह पूजा किया करती थीं। व्यापार जगत में उनकी ख्याति इतनी है कि लोग अपने व्यापार को बढ़ाने के लिए उन्हें अपना बिजनेस पार्टनर बनाते हैं और जब मुनाफा होता है तो उनका ह‍िस्सा दान के रूप में पहुंचा द‍िया जाता है।