जब आप तनाव में होते हैं तो आपका कुत्ता भी तनाव में होता है! -शोध

मालिक और कुत्ते के बालों में पाए जाने वाले हॉर्माेन से पता चला

आप अपना सबसे अच्छा दोस्त किसे मानेंगे? उसी को ना जो बिना कहें आपके मन की बात समझ जाए। खैर आज ऐसे दोस्त मिलना लोगों को बहुत मुश्किल लगता है जो उनके साथ हंसे उनके साथ रोए। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे शोध के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बाद आपका ये काम बहुत आसान होने वाला है। शोधकर्त्ताओं के मुताबिक कुत्ते अपने मालिक का तनाव का स्तर प्रतिबिंबित करते हैं। इस शोध के नतीजों से इस बात का पता चलता है कि कुत्ता जिन लोगों के साथ रहता है उनसे उसके तनाव का स्तर प्रभावित होता है।

इस अध्ययन में शोधकर्त्ताओं ने इस बात का अध्ययन किया कि कुत्तों में तनाव का स्तर किस तरह से जीवनशैली के कारको और उन लोगों से प्रभावित होता है जिनके साथ वो रहता है। इससे पहले हुए अध्ययनों में इस बात का पता चला कि एक ही प्रजाति के लोग आपस में एक दूसरे की भावनात्मक स्थितियों को दिखा सकते हैं। जैसे की मां और बच्चे के बीच के संबंध।

Journal of Scientific में ये अध्ययन प्रकाशित हुआ। इसमें वैज्ञानिकों ने ये अनुमान लगाया कि दूसरी प्रजातियों के बीच में लंबे समय तक एक साथ रहने के बाद एक ही स्तर का तनाव हो सकता है। जैसे की कुत्ते और इंसान में। शोधकर्त्ताओं ने कुत्ते और उसके मालिक के बालों से उनमें पाए जाने वाले तनाव के हॉर्मान से उनके तनाव के स्तर का पता लगाया।

मुख्य अध्ययनकर्त्ता Ann-Sofie Sundman ने कहा कि हमने अपने अध्ययन में पाया कि तनाव वाले हॉर्मान cortisol लंबे समय में कुत्ते और उसके मालिक के बीच साथ-साथ चल रहे थे। जब मालिक में ये हॉर्मान उच्च स्तर पर था तो कुत्ते में भी ये उच्च स्तर पर था, जब मालिक में कम था तो कुत्ते में भी कम था।

ये अध्ययन 58 कुत्तों पर किया गया जिसमें सभी की मालिक औरतें थी। इसमें 2 अलग-अलग मौकों पर मालिक और कुत्ते के बालों का सैम्पल लिया गया। तनाव का स्तर शारीरिक गतिविधि के साथ जुड़ा है। इसलिए शोधकर्ताओं ने उनकी गतिविधियों पर भी नजर रखी। इसमें ये पाया गया कि जो कुत्ते अपने मालिक के साथ प्रतिस्पर्धा करते हैं उनमें अपने मालिक के साथ तनाव का स्तर ज्यादा मजबूती से जुड़ा है।