पश्चिम बंगाल में नहीं थम रही हिं’सा,तृणमूल कांग्रेस के नेता पर हुआ ह’मला

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिं’सा रुकने का नाम नहीं ले रही है।लोकसभा चुनाव खत्म होने के बाद भी बंगाल में सियासी पारा च’ढ़ा हुआ है। सोमवार को बंगाल के कूचबिहार जिले में तृणमूल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पर ह’मले और प्रदेश अध्यक्ष को का’ले झंडे दिखाए जाने की घ’ट’ना सामने आई है। इस घ’ट’ना के लिए तृणमूल कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी को जिम्मेदार ठहराया है।

तृणमूल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुब्रत बख्शी उत्तर बंगाल के कूचबिहार में मीटिंग करने के लिए गए थे। इस दौरान लोगों ने उन्हें का’ले झंडे दिखाए। इसके अलावा तृणमूल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष विनय कृष्ण वर्मन पर ह’मला किया गया।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की चुनावी हिं’सा में अब तक  कई लोगों को अपनी जा’न गं’वानी पड़ी है। भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों की हिं’सा में दोनों ही दलों के समर्थकों की ह’त्याएं कर दी गई हैं।

बता दें कि राज्य में लगातार हो रही राजनीतिक हिं’सा को लेकर शासन और प्रशासन सतर्क हैं ।गृह मंत्रालय को राज्य सरकार के लिए एडवाइजरी जारी करते हुए सूबे में केंद्रीय बलों की तैनाती का ऐलान करना पड़ा

गौरतलब है कि इस बार के लोकसभा चुनाव में बंगाल में बीजेपी ने बड़ी सफलता हासिल की है । 2014 में मात्र 2 सीटों पर सिमटी बीजेपी इस बार राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर जीत दर्ज की है जबकि 2014 के लोकसभा चुनाव में 34 सीटों पर जीत दर्ज करने वाली तृणमूल कांग्रेस ने 22 सीटेों पर जीत हासिल की।

पश्चिम बंगाल में बीजेपी की इस जीत में मुकुल रॉय और बंगाल बीजेपी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा योगदान है।  कैलाश विजयवर्गीय को बंगाल का चुनाव प्रभारी बनाया गया था।

kaushlendra

सामाजिक और राजनीतिक विषयों पर लिखने में दिलचस्पी है।गांधी जी का फैन हूँ।समाज में जागरुकता लाना उद्देश्य है।पत्रकारिता मेरा प्रोफेशन है,जुनून है और प्यार भी है।
kaushlendra