“जब तक ममता का अहंकार नहीं टूटेगा,हमारा आंदो’लन चलता रहेगा”-कैलाश विजयवर्गीय

लोकसभा चुनाव खत्म होने के बाद भी बंगाल में सियासी पारा चढ़ा हुआ है। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल के चुनाव प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने ममता बनर्जी पर निशाना साधा है। पश्चिम बंगाल में कार्यकर्ताओं की ह’त्या के विरोध में भाजपा ने प्रदर्शन किया जिन पर पुलिस ने पानी की बौछार की और आंसू गैस के गो’ले दा’गे।जिसके बाद बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने ट्विटर पर अपना एक वीडियो शेयर किया जिसमें उन्होंने कहा कि बीजेपी तब तक बंगाल में लोकतांत्रिक तरीके से आंदोलन करती रहेगी जब तक ममता का अहंकार नहीं टूट जाता।

वीडियो ट्वीट करने के साथ कैलाश विजयवर्गीय ने लिखा है कि अत्या’चार के खिलाफ आं’दोलन पर भी अत्या’चार। पश्चिम बंगाल सरकार की दम’नात्मक कार्रवाई के खिलाफ बीजेपी के शांतिपूर्ण आंदोलन पर भी ममता सरकार का क’हर बरपा! 50 हज़ार से ज्यादा कार्यकर्ताओं पर पानी बौछार, अश्रु गैस और ला’ठी चार्ज किया गया! लेकिन, हम इससे न झुकेंगे न डरेंगे!

बता दें कि पश्चिम बंगाल में चुनावी हिं’सा रुकने का नाम नहीं ले रही है। भाजपा नेता मुकुल रॉय का आरोप है कि 8 जून की रात तृणमूल समर्थकों ने बशीरहाट में उनके 4 कार्यकर्ताओं की गो’ली मारकर ह’त्या कर दी थी। जिसके बाद बीजेपी कार्यकर्ता सड़कों पर आकर प्रदर्शन कर रहे हैं । उनके प्रदर्शन को देखते हुए हजारों की संख्या में जवान तैनात कर दिए गए हैं।

भाजपा के द्वारा हिं’सा के लिए बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है जबकि ममता का आरोप है कि भाजपा के लोग बंगाल में हिं’सा फैला रहे हैं।

बता दें कि ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में हिं’सा के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराते हुए आदेश दिया है कि बीजेपी राज्य में किसी भी तरह का जुलूस नहीं निकाल सकती। यदि कोई भी विजय जुलूस निकालता है, तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।

गौरतलब है कि इस बार के लोकसभा चुनाव में बंगाल में बीजेपी ने बड़ी सफलता हासिल की है । 2014 में मात्र 2 सीटों पर सिमटी बीजेपी इस बार राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर जीत दर्ज की है जबकि 2014 के लोकसभा चुनाव में 34 सीटों पर जीत दर्ज करने वाली तृणमूल कांग्रेस ने 22 सीटेों पर जीत हासिल की।

kaushlendra

सामाजिक और राजनीतिक विषयों पर लिखने में दिलचस्पी है।गांधी जी का फैन हूँ।समाज में जागरुकता लाना उद्देश्य है।पत्रकारिता मेरा प्रोफेशन है,जुनून है और प्यार भी है।
kaushlendra