कला और संगीत को प्यार करने वाली एक उत्कृष्ट महिला के निधन से बहुत दुखी हूँ – लता मंगेशकर

New Delhi : दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के निधन पर सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर ने भी गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने शीला के निधन पर कहा कि “शीला जी के निधन के बारे में सुनकर गहरा दुख हुआ। एक उल्लेखनीय महिला, नई दिल्ली की पूर्व सीएम और सभी कला रूपों की गहरी प्रशंसक। हमने कभी राजनीति पर चर्चा नहीं की लेकिन संगीत और कविता पर लंबी बातचीत की। उसकी आत्मा को शांति मिले और उसके परिवार के प्रति गहरी संवेदना।”

कांग्रेस की वरिष्ठ नेता और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का आज निधन हो गया है। वह लंबे वक्त से बीमार चल रही थी। दिल्ली के एस्कार्ट अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। वह 15 सालों तक दिल्ली की मुख्यमंत्री थी। कल दोपहर 2:30 बजे शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार निगमबोध घाट पर किया जाएगा। तब तक उनके समर्थक उनके निज निवास पर शीला दीक्षित के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन कर सकेंगे।

शीला दीक्षित का जन्म मार्च 31 March 1938 को हुआ था। इसका 20 July 2019 को निधन हो गया। एक भारतीय राजनेता थी, जो दिल्ली के सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रही। 1998 से 2013 तक इन्होने दिल्ली की मुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला। दीक्षित दिल्ली में लगातार तीन कांग्रेस पार्टी का नेतृत्व किया और चुनाव में जीत दर्ज की। दिसंबर 2013 में दिल्ली विधानसभा के चुनाव में, दीक्षित को नई दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र में आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने हराया।

इसके बाद उन्हें 11 मार्च 2014 को केरल के राज्यपाल के रूप में शपथ दिलाई गई। उन्हें 2017 के उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के लिए मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया गया था। उन्हें 10 जनवरी, 2019 को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था।