दिल्ली में मोदी पंच से पस्त हुए बॉक्सर विजेंदर सिंह,जमानत भी हुई जब्त

New Delhi : पिछले लोकसभा के चुनावों की तरह इस लोकसभा चुनावों में भी भारतीय जनता पार्टी दिल्ली की सातों सीटों को अपने नाम करने में कामयाब हुई है।ये शानदार कामयाबी बीजेपी ने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित समेत कई दिग्गजों को हरा कर हासिल की है।कांग्रेस इस बार दिल्ली में शीला दीक्षित के नेतृत्व में अपनी तरफ से हर तैयारी कर चुनावों में उतरी थी।पार्टी ने रणनीति के तहत लोकप्रिय मुक्केबाज विजेन्दर सिह को दक्षिणी दिल्ली से चुनावी मैदान में उतारा था।विजेन्दर सिंह को यहां से करारी हार का सामना करना पड़ा है,जिसमें उनकी जमानत भी जब्त हो गई है।

दक्षिणी दिल्ली से उनका मुकाबला भाजपा के रमेश बिधूड़ी और आम आदमी पार्टी के युवा नेता राघव चड्ढा से था।जिसमें रमेश बिधुड़ी ने लगभग 57 प्रतिशत के वोट शेयर से शानदार जीत दर्ज की है। 27 प्रतिशत वोट पाकर राघव चड्ढा दूसरे पायदान पर रहे।वहीं कांग्रेस के विजेंदर सिंह को 13 प्रतिशत वोट ही मिले।जिससे उनकी जमानत भी जब्त हो गई।आम आदमी पार्टी के चांदनी चौक से प्रत्याशी पंकज गुप्ता, नई दिल्ली से प्रत्याशी बृजेश गोयल और उत्तर पूर्वी दिल्ली से दिलीप पांडेय की भी जमानत जब्त हो गई।

कांग्रेस के पास इस चुनाव में खोने के लिए कुछ नहीं था, लेकिन अपना खोया जनाधार वापस पाने के लिए उसने चुनाव में अपने सर्वाधिक मजबूत नेताओं को उतारा। मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष व तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं शीला दीक्षित के नेतृत्व में चुनाव लड़कर कांग्रेस ने सीट तो नहीं जीती और दक्षिणी दिल्ली सीट से उसके सेलेब्रिटी उम्मीदवार बॉक्सर विजेंदर सिंह की जमानत जब्त हो गई, लेकिन पार्टी का पांच सीटों पर दूसरे नंबर पर आ जाना उसके लिए संतोषजनक जरूर कहा जा सकता है। कांग्रेस का यह प्रदर्शन दर्शाता है कि उसने आप की तरफ खिसका अपना वोटबैंक हासिल करने में काफी हद तक सफलता हासिल की है, जो अगले विधानसभा चुनाव में उसे लड़ाई में अवश्य रखेगा।

पिछले लोकसभा चुनाव की तरह इस बार भी दिल्ली देश के साथ कदम से कदम मिलाती नजर आई। जहां देश के कई राज्य मोदीमय हो गए, वहीं दिल्ली ने भी भाजपा को निराश नहीं होने दिया। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी के नेतृत्व में पार्टी के सातों प्रत्याशियों ने अपनी-अपनी सीट पर कमल खिलाकर यह साबित कर दिया कि दिल्ली के लोगों का मिजाज देश से अलग कतई नहीं है।