UP: दहे’ज में नहीं मिली भैंस तो पत्नी को दे डाला ट्रिपल त’लाक

New Delhi: ट्रिपल त’लाक पर कानून बनने के बाद भी इस पर ल’गाम नहीं लग रही है। अभी भी आए दिन छोटे-छोटे म’सलों पर तलाक की खबरें सामने आती ही रहती हैं। ऐसी ही एक खबर उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले से सामने आई है जहां पति ने पत्नि को सिर्फ इसलिए त’लाक दे दिया कि वो द’हेज के रूप में भेंस और एक लाख रुपये नहीं दे पाई। इससे गु’स्साए पति ने महिला को ट्रिपल त’लाक दे दिया हालांकि बाद में आरोपी युवक को गि’रफ्ता’र कर लिया गया।

मुरादाबाद के एएसपी दीपक ने मामले के बारे में बताते हुए कहा “उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में अपनी पत्नी को ट्रिपल त’ला’क देने और न्या’यिक हि’रासत में भेजने के लिए एक मुस्लिम व्यक्ति को गि’रफ्ता’र किया गया है। युवक पर घ’रेलू हिं’सा और दहेज की मांग के लिए एक एफ’आई’आर दर्ज कराई गई है जिसमें द’हेज के रूप में 1 लाख रुपये और एक भैंस मांगने की बात कही गई है।” महिला ने 2014 में पुरुष से शादी की और उनकी एक आठ महीने की बेटी भी है।

1 अगस्त को, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने मुस्लिम महिलाओं (विवाह पर अधिकारों का संरक्षण), विधेयक, 2019 को अपनी स्वीकृति प्रदान की, जो मुस्लिमों में तत्काल ‘ट्रिपल त’लाक’ को अपराधी मानता है। इस कानून के तहत अप’राधी को तीन साल का प्रा’वधान रखा गया है।

आपको बता दे कि 24 जुलाई को लोकसभा में ट्रिपल तटलाक बिल ध्वनिमत से पास हो गया था। सदन में बिल के पक्ष में 303 वोट पड़े थे वहीं इसके विपक्ष में 82 वोट पडे। कांग्रेस, TMC, BSP और JDU ने इस बिल के विरोध में सदन से वॉ’कआउट किया था। कानून मंत्री ने कहा था कि 24 जुलाई 2019 तक ट्रिपल त’लाक के 345 मा’मलें आ चुके हैं।