महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री बन सकते हैं उद्धव ठाकरे…इनमें दिखती है बाला साहेब ठाकरे की छवि

New Delhi : महाराष्ट्र की राजनीति में उद्धव ठाकरे बड़ा नाम हैं। थोड़े ही वक्त में वो महाराष्ट्र के सीएम बनने वाले हैं। जानिए बाला साहेब ठाकरे के पुत्र और शिवसेना के कार्यकारी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के जीवन से जुड़ी खास बातें-

उद्धव ठाकरे का जन्म 27 जुलाई 1960 को महाराष्ट्र के मुंबई में हुआ था। वर्ष 2004 से वे शिवसेना के कार्यकारी अध्यक्ष हैं। उद्धव को यह जिम्मेदारी बाला साहेब ठाकरे ने दी थी। उद्धव ठाकरे की राजनैतिक प्रतिभा सामने आई जब उनके नेतृत्व में वर्ष 2002 में बीएमसी चुनाव कराए गए, इस चुनाव में पार्टी का शानदार प्रदर्शन रहा।

तभी से उद्धव को महाराष्ट्र की राजनीति का उभरता हुआ सितारा कहा जाने लगा था। सौम्य और गंभीर रहने वाले उद्धव एक अच्छे रणनीतिकार माने जाते हैं। उनके समर्थक उद्धव में बाला साहेब ठाकरे की छवि देखते हैं। पार्टी स्वभाव का उनके जीवन पर भी असर दिखाई देता है, वे कठोर फैसले लेने से नहीं चूकते हैं।

यही वजह है कि उनके समर्थक उनके एक इशारे पर मरने मिटने के लिए तैयार हो जाते हैं।

बाला साहेब के बाद माना जाने लगा था कि इतनी बड़ी पार्टी को कैसे नियंत्रित किया जाएगा, लेकिन जिस ढंग से उद्धव ने कम समय में पार्टी में पकड़ बनाई और पार्टी को मजबूती प्रदान की उससे उन्होंने विरोधियों के मुंह बंद कर दिए। वे अच्छे पत्रकार और लेखक भी हैं। वर्ष 2006 से वह शिव सेना के मुख्य समाचार पत्र सामना के संपादक हैं।

उद्धव अपनी बेबाक राय के लिए भी जाने जाते हैं उन्हें जो ठीक लगता है उसे कहने में वे कतई नही हिचकते हैं। फिर सामने वाला का कद कितना ही बड़ा क्यों न हो।

उद्धव ने जिस तरह से शिव सेना की पकड़ को महाराष्ट्र में मजबूत किया है वह उनकी कुशलता को दर्शाता है। वर्तमान राजनैतिक परिस्थिति में उद्धव ठाकरे एक मझें हुए और परिपक्व नेता के तौर पर नजर आए हैं।