पुलवामा एनकाउंटर में दो आतंकी ढेर, एक सीआरपीएफ का जवान भी शहीद

New Delhi : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में जारी एक एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने मंगलवार को दो आतंकियों को ढेर कर दिया। हालांकि, इस मुठभेड़ में एक सीआरपीएफ का जवान भी शहीद हो गया है। यह एनकाउंटर पुलवामा जिले के बंदजू इलाके में मंगलवार तड़के शुरू हुआ। जवानों को गांव में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली, जिसके बाद इलाके की घेराबंदी करके सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इसी दौरान फायरिंग भी शुरू हो गई।

एनकाउंटर में एक सीआरपीएफ का जवान गोली लगने के चलते घायल हो गया, जिसने बाद में दम तोड़ दिया। माना जा रहा है कि दो से तीन आतंकवादी छिपे हो सकते हैं। भारतीय सेना के प्रवक्ता ने बताया कि एनकाउंटर वाली जगह से दो एके-47 बरामद की गई हैं। इसके अलावा पूरे इलाके में अभी भी सर्च ऑपरेशन जारी है।
इससे पहले जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में सुरक्षा बलों के साथ रविवार को हुई मुठभेड़ में तीन आतंकवादियों को मार गिराया गया था। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि शहर के जूनिमार इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी के आधार पर सुरक्षा बलों ने रविवार सुबह इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू किया।
इस वर्ष 2020 में अब तक सुरक्षाबलों ने 36 ऑपरेशनों में 92 आतंकी मार गिराए हैं। जबकि इनके 126 से ज्यादा मददगार गिरफ्तार किए जा चुके हैं। 2019 में 150 से अधिक और 2018 में 250 से अधिक आतंकियों को मारा गया था। मारे गए 92 आतंकियों मे केवल 35 हिजबुल के ही हैं। संगठन के ऑपरेशनल प्रमुख कमांडर रियाज नायकू समेत कई कमांडरों को भी मारा जा चुका है।
ईद के बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ अपने ऑपरेशंस में तेजी लाई है और आतंकी समूहों के शीर्ष नेतृत्व पर नजर रखी हुई है। कुलगाम में 25 मई को इस्लामिक स्टेट जम्मू-कश्मीर के कमांडर आदिल अहमद वानी और लश्कर-ए-तैयबा के शाहीन अहमद ठोकर को मारा गया। इसके बाद कुलगाम के वानपोरा इलाके में 30 मई को हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर परवेज अहमद और जैश-ए-मोहम्मद के टॉप कमांडर शाकिर अहमद को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

65 + = seventy four