दिल्ली सरकारी स्कूलों के दो छात्रों ने मॉस्को ओलम्पियाड में जीता मेडल

New Delhi: दिल्ली सरकारी स्कूल के दो छात्रों हर्षिता और सत्यम ने अंतराष्ट्रीय ओलम्पियाड में मेडल जीता है। यह जानकारी दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने एक ट्वीट करके दी है। सिसोदिया अपने एक ट्वीट में लिखते हैं – ‘मॉस्को ओलम्पियाड में जाकर दिल्ली और देश का नाम रोशन करने वाले अपने सरकारी स्कूलों के बच्चों से मिला। हर्षिता और सत्यम ने पहली बार किसी सरकारी स्कूल की ओर से अंतराष्ट्रीय ओलम्पियाड में मेडल जीता है’।

सत्यम और 17 साल की उनकी सहपाठी हर्षिता राव ने मास्को में सितंबर के पहले सप्ताह में आयोजित अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में रसायन विज्ञान में कांस्य पदक जीता। दिल्ली सरकारी सरकारी स्कूल से पदक जीतने वाली पहली टीम बन गई।

दोनों दिल्ली सरकार के उन आठ छात्रों में शामिल थे जिन्होंने 14-18 वर्ष की आयु के छात्रों के लिए आयोजित मास्को ओलंपियाड में भाग लेने के लिए रूसी राजधानी के लिए उड़ान भरी थी। इस जोड़ी ने दुनिया भर की 44 टीमों से मुकाबला किया। आपकों मालूम हो कि दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया का शिक्षा के क्षेत्र में किये गए बदलाव की खूब तारीफ़ हो रही है।

मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर यह भी कहा कि ‘सरकार ने तय किया कि दिल्ली के बच्चों को ओलम्पियाड की तैयारी के लिए शिक्षा विभाग में एक स्पेशल सेल का गठन होगा। इस सेल का काम होगा 14 से 18 वर्ष की उम्र के छात्रों को अंतराष्ट्रीय ओलम्पियाडस की तैयारी करवाना. ज़रूरत पड़े तो रूस, जापान आदि देशों से विशेष प्रशिक्षक भी बुलाना’।