मलाला युसुफजई ने कहा 12 अगस्त को स्कूल नहीं जा पार्ई कश्मीरी लड़की, लोगों ने कहा उस दिन थी ईद

New Delhi: नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला युसुफजई रविवार को सोशल मीडिया पर लोगों के निशाने पर आ गईं। पाकिस्तान की वकील मलाला युसुफजई ने एक ट्वीट में एक लड़की की बात रखी। उन्होंने कहा कि कश्मीर की एक लड़की 12 अगस्त को स्कूल नहीं जा पाई। जिसके बाद भारतीय यूजर्स ने उनको बता दिया कि उस दिन ईद थी और उस दिन कोई कैसे स्कूल जा सकता है। ट्विटर पर इसके बाद मलाला ट्रेंड कर रहा है।

सोशल मीडिया पर लोग आजकल इतने एक्टिव होते हैं कि किसी की गलती तुरंत पकड़ लेते हैं। इसी के साथ-साथ वहीं भारी संख्या में ट्रोलर भी पैदा हो गए हैं। अब मलाला एक ट्वीट कर के मुसीबत में फंस गईं। भारतीय यूजर्स ने उनकी गलती पकड़ ली। ये रहा उनका ट्वीट –

भारतीय यूजर्स ने क्या प्रतिक्रियाएं दी हैं देखिए –

यूजर ने कहा भारत में सभी मुस्लिम त्यौहारों पर अवकाश होता है। वो तीन लड़किया तुम से ज्यादा होशियार हैं और तुम्हें मूर्ख बना रही हैं। भारत में एक लड़की भी 12 अगस्त को स्कूल नहीं गई होगी क्योंकि उस दिन ईद का अवकाश था।

एक अन्य यूजर ने लिखा आप नोबेल पुरस्कार के बिल्कुल लायक नहीं हो, लोगों को शर्म आनी चाहिए कि तुम्हें नोबेल पुरस्कार दिया गया।

एक और अन्य यूजर ने मलाला के ट्वीट का जवाब देते हुए कहा कि मलाला आप क्यों फेक न्यूज फैला रही हो, 12 अगस्त को ईद का अवकाश।