दिल्ली को मिली देश की पहली महिला स्वाट टीम, आतंकवादियों से निपटने में हैं एक्सपर्ट

दिल्ली को मिली देश की पहली महिला स्वाट टीम, आतंकवादियों से निपटने में हैं एक्सपर्ट

By: Manvi
August 10, 09:16
0
NEW DELHI: राजधानी दिल्ली में आतंकियों से निपटने के लिए महिलाओं की एक विषेश टीम का गठन किया गया है। देश की पहली महिला ‘स्वाट’ टीम दिल्ली पुलिस का हिस्सा बनने जा रही है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को दिल्ली पुलिस की इस नई इकाई का औपचारिक रूप से शुरुआत

देश और विदेश के माहिर ट्रेनर्स से प्रशिक्षण लेने के बाद पूर्वोत्तर राज्यों की 36 काबिल महिलाओं को इस टीम में शामिल किया गाय है। इन महिला सिपाहियों को किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए 15 महीने की कठोर ट्रेनिंग दी गई है।दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने इस टीम के गठन का प्रस्ताव रखा था। अमूल्य पटनायक ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में आंतकवादी हमलों से निपटने के लिए इन्हें विषेश ट्रेनिंग के बाद तैयार किया गया है।

आंतकवादी हमला या किसी को बंधक बना लिए जाने जैसे स्थितियों से निपटने के लिए महिला स्वाट टीम से बेहतर विकल्प कुछ नहीं होगा।उन्होंने बताया कि दिल्ली के झरोदा कलान में प्रशिक्षण के दौरान इस टीम ने अपने समकक्षों पुरुषों से भी बेहतरप्रदर्शन किया।इसकी कठोर ट्रेनिंग की वजह से ज्यादातर विकसित देशों में महिला स्वाट टीम नहीं है। ऐसे में इसे दिल्ली पुलिस की बड़ी उपलब्धि के रूप में देखा जा रहा है।

36 महिला सिपाहियों की इस टीम में सबसे अधिक 13 असम की महिलाएं हैं। इसके अलावा अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम और मणिपुर से 5-5 महिलाओं को चुना गया है। इन्हें इज़राइली क्राव मग की विशेष ट्रेनिंग दी गई है। ऐसे लोग हथियारों के बिना दुश्मनों को धूल चटा सकते हैं।इसके अलावा स्वाट टीम विशेष हथियारों से लैश रहेंगी। इन्हें बंधक को आजाद करने के लिए शहर के इमारतों पर चढ़ने की भी ट्रेनिंग मिली है। महिला स्वाट टीम को दिल्ली के हाई अलर्ट इलाकों में तैनात किया जाएगा। इंडिया गेट और लाल किला जैसे जगहों पर भी इन्हें ड्यूटी दी जाएगी।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।