कल है साल का आखिरी सूर्यग्रहण, आ सकती है बड़ी त’बाही

New Delhi : साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर 2019 को लगने जा रहा है। यह ग्रहण सुबह 8 बजे से शुरू होकर 1 बजकर 56 मिनट तक रहेगा। ज्योतिषियों का कहना है कि साल का आखिरी सूर्य ग्रहण तबा’ही या प्र’लय का कारण बन सकता है। इसलिए लोगों को संभलकर रहने की जरूरत है।

सूर्य ग्रहण और उसके प्रभाव का गणित आचार्य भूषण कौशल ने समझाया है। उनका कहना है कि ये सूर्य ग्रहण लोगों की सार्वजनिक और व्यक्तिगत जिंदगी दोनों में असर डालेगा। साथ ही इससे बचने के उपाय भी उन्होंने बताए हैं। आचार्य भूषण कौशल के अनुसार, ये ग्रहण आने वाले साल पर भी असर डालेगा। सूर्य ग्रहण केतु में लग रहा है और यह भारत में भी दिखाई देगा।

सूर्य ग्रहण का समय- इसे कंकणा सूर्य ग्रहण कहा जा रहा है। 9 बजकर 6 मिनट पर कंकण ग्रहण प्रारंभ होगा, जो 12 बजकर 29 मिनट पर समाप्त होगा। सूर्य ग्रहण 1 बजकर 36 मिनट पर खत्म होगा। इसकी कुल अवधि 5 घंटे 36 मिनट होगी।

प्राकृतिक आपदाओं का कारण- 26 दिसंबर को काल पुरुष की कुंडली में धनु लग्न उदय हो रहा है। भारतवर्ष की कर्क राशि है। कर्क राशि से छठे भाव में ये ग्रहण लगने जा रहा है। छठा भाव रो’ग, श’त्रु, परेशानी, विपत्ती, आपत्ति और प्राकृतिक आपदा के लिए जिम्मेदार होता है।

ज्योतिषी भूषण कौशल के मुताबिक, इसके अलावा छठे भाव में पांच ग्रहों का भी योग बन रहा है। धनु राशि में सूर्य के अलावा चंद्र, बुध, गुरू, शनि केतु विराजमान है। धनु में शनि होने की वजह से सभी ग्रह भारी हो जाएंगे। काल पुरुष की कुंडली में जब एक तरफ सारे ग्रह चले जाएं तो समझिए आपका जीवन में मुश्किलें आ सकती हैं।
ऐसे में प्राकृतिक आपदा के रूप में भू’कंप, भारी वर्षा या भयं’कर बर्फबारी हो सकती है। ओलावृष्टि की तबाही से सबसे ज्यादा खतरा फसलों को होगा। मुख्यतौर पर गन्ने की फसल को सबसे ज्यादा नुकसान हो सकता है। ग्रहण लगने के 15 दिन पहले और 15 दिन बाद बेहद संभलकर रहने की जरूरत होती है।

निजी जीवन में संकट- चूंकि धनु मास चल रहा है जिसे अशु’भ मलमास माना जाता है। इससे आपके मान-सम्मान में कमी आ सकती है। बिजनेस में बड़ा नुकसान हो सकता है। नौकरी पर भी आंच आ सकती है। इस वक्त यु’द्ध जैसे हालात बनते भी नजर आ रहे हैं।
इतना ही नहीं, आपके चरित्र पर आरोप लग सकता है। पद-प्रतिष्ठा गंवाने के भी योग बन रहे हैं। राजनीति में सक्रिय लोगों के लिए भी ये काफी खराब स्थिति पैदा कर सकता है। हालांकि कुछ उपाय कर आप राशि में लगने वाले ग्रहण से बच सकते हैं।