इस बार धनतेरस के दिन दान कीजिये ये 5 चीजें…बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपा, दूर होगी तंगी

New Delhi : 13 नवंबर शुक्रवार को धनतेरस का त्यौहार मनाया जायेगा। कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को हर साल धनतेरस या धनत्रयोदशी मनाई जाती है। इस दिन से ही खरीदारी की शुरुआत हो जाती है जो दिवाली के दिन तक चलती है। इस दिन सोने-चांदी के सिक्के, बर्तन, मां लक्ष्मी और गणेश जी की मूर्ति खरीदी जाती है। लेकिन बहुत कम लोग ही जानते हैं कि धनतेरस के दिन कुछ विशेष चीजों का दान बहुत शुभ माना जाता है। चूंकि इस बार कोरोना की वजह से पूरे वर्ष लोगों को किसी न किसी रूप में आर्थिक और शारीरिक कष्ट पहुंचा है इसलिये इसबार दिवाली और मां लक्ष्मी के पूजन के साथ ही धनतेरस या धनत्रयोदशी का भी विशेष महत्व है।

ज्योतिष में पीले रंग का संबंध बृहस्पति ग्रह से माना जाता है। धनतेरस के दिन भी पीले वस्त्र दान करना शुभ होता है। मान्यता है कि धनतेरस पर किसी जरुरतमंद व्यक्ति को पीले वस्त्रों का दान करने पर दान करने वाले को पुण्य मिलता है।
इस दिन पीले वस्त्र का दान करना महादान कहलाता है। धनतेरस के दिन अन्नदान का विशेष महत्व है। इस दिन अपने घर पर किसी गरीब भूखे व्यक्ति को आदर सम्मान के साथ खाना खिलाए। ऐसा करने से आपके ऊपर माता लक्ष्मी की कृपा बरसेगी। भोजन कराने के बाद उस व्यक्ति को दक्षिणा के रूप में पैसे देकर विदा करें।
माना जाता है कि माता लक्ष्मी को झाड़ू प्रिय है। इसलिए धनतेरस के दिन झाड़ू को घर लाकर उसकी पूजा करनी चाहिए। अगर आप आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं तो आज के दिन झाड़ू दान करने से आपकी आर्थिक तंगी दूर हो जाएगी। वहीं दान को लेने वाले व्यक्ति के घर में भी लक्ष्मी का आगमन होता है। धनतेरस के दिन मिठाई और नारियल दान करने से धन-धान्य के भंडार भरे रहते हैं। इसके साथ ही जीवन में कभी भी आर्थिक तंगी नहीं आती है। ये दान किसी जरुरतमंद व्यक्ति को ही करें।
धनतेरस के दिन लोहा दान करने से भाग्य बढ़ता है और दुर्भाग्य मिट जाता है। ऐसा करने से व्यक्ति को मां लक्ष्मी जी का आशीर्वाद प्राप्त होता है और जीवन में शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− five = two