भारत जिंदाबाद था, जिंदाबाद है और जिंदाबाद रहेगा! भारत की कलेजा मुंह को ले आने वाली परफोर्मेंस

New Delhi : क्रिकेट हमारे खून में है, हर गली में है और हर घर में है। तो ऐसे में क्रिकेट के दीवाने खामोश कैसे रहें वो भी तब जब जीत हमारी हो। कल का मैच बहुत रोमांचकारी रहा क्योंकि कल का दिन बल्लेबाजों का नहीं गेंदबाजों का था। भारत की डूबती नैया को गेंदबाजों ने पार लगाया। वैसे गेम में टीम वर्क हमेशा से सबसे ऊपर रहता है लेकिन कल के मैच की जीत की ट्रॉफी का क्रेडिट चाहर को जाता है। ट्रॉफी हाथ में लिए उनकी चमनिया मुसकान को ही देख लीजिए, सोशल मीडिया पर हर जगह ट्रेंड कर रही है।

श्रेयस अय्यर और के एल राहुल के अर्धशतक और दीपक चाहर के 10 में से छह विकेट लेने के अंदाज ने बांग्लादेश को आखिरी 30 रनों पर ही रोक दिया। मोहम्मद नईम ने तो एक वक्त पर मिनी हार्ट अटैक ही दे दिया था। 48 गेंदों में 81 रन बनाकर गेंदबाजों को ऐसा धोया की सबकी हालत खराब हो गई थी।

शुरूआत में ही बांग्लादेश ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला कर लिया था। बाद में जब बल्लेबाजी के लिए उतरा तो लग ही रहा था कि वो आज तो मुकाबले में भारत को 175 की जगह 180 रन बनाकर दिखाएंगे। दीपक चाहर ने उनके मनसूबों को 12 रनों पर लिटन दास और सौम्य सरकार को टपका कर रोक दिया।

मोहम्मद नईम ने प्रेशर को अच्छे से हैंडल किया। नईम ने मिथुन के साथ मिलकर 108 रनों की साझेदारी से भारत को परेशानी में डाल दिया। चाहर 110 पर दो विकेट से 144 – 10 के स्कोर पर बांग्लादेश को रोक भारत के नाम बहुत बड़ी जीत लिखी। नागपुर के स्टेडियम में ये भारत बांग्लादेश के तीन मैचों की टी20 सीरीज का आखिरी मैच था। ये सीरीज भारत ने 2-1 से जीत ली है।