हवा प्रदूषण के बढ़ने से एंटी प्रदूषण प्रोडक्ट इंडस्ट्री के आए अच्छे दिन

New Delhi : लीजिए दीवाली का महीना भी आ ही गया। दीवाली के साथ – साथ अब दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण की खबरें भी आना शुरू हो जाएंगी। ऐसे में लोगों के मुंह पर मास्क चढ़ना आम बात है।

गुरूग्राम के जय धर गुप्ता दीवाली के लिए तैयार हैं। मार्केट में चल रहे हर ट्रेंड पर उन्होंने रिसर्च कर ली है। दीवाली पर सजावट के सामान के साथ एंटी पॉल्यूशन प्रोडक्ट्स की डिमांड भी बढ़ती जा रही है। पिछले तीन सालों से उनकी वेबसाइट पर हजार से ज्यादा ऑर्डर आ रहे हैं कभी – कभी तो साइट ही क्रैश हो जाती है। एयर प्योरिफायर से लेकर एयर बैग ग्राहकों के लिए जरूरी होते जा रहे हैं।

व्यापार बढ़ रहा है और बढ़ रहा है प्रदूषण।
व्यापार बढ़ रहा है और बढ़ रहा है प्रदूषण।

प्रदूषण के चलते मार्केट हर साल 12 से 15 करोड़ का लाभ कमा कर रही है। भारत के दूसरे शहरों में अक्टूबर और मार्च के बीच डिमांड में इजाफा हो जाता है। इसके पीछे का कारण पटाखों और पराली के जलने की वजह से बढ़ता प्रदूषण है। भारत में सबसे शीर्ष पर चल रहा अमेजॉन पिछले तीन सालों से एंटी पॉल्यूशन कैटेगरी में तेजी से ग्रो कर रहा है।

इंडियन रेलवे पर अब इसरो रखेगा निगरानी, ट्रेनों की सुधरेगी रफ्तार और टलेंगे हादसे

अब इन प्रोडक्ट्स में भी तरह – तरह के बदलाव किए जा रहे हैं। ग्राहकों की सुविधा के अनुसार ये प्रोडक्ट्स कई आकारों में उपलब्ध है। स्नैपडील भी अब अपनी वेबसाइट पर इन प्रोडक्ट्स को जगह देने वाला है। हर कोई इस मुनाफे की रेस में अपना हिस्सा लेना चाहता है। इस प्रोफिट में प्रदूषण का सबसे बड़ा हाथ है।