टेन्सिल टेस्ट- जांच होगी कि जिस कपड़े का फंदा बनाया, वह सुशांत का वजन उठा सकता था या नहीं

New Delhi : सुशांत सिंह राजपूत केस में अब तक जो भी रिपोर्ट्स सामने आई हैं, उसमें उनके जान देने की पुष्टि हुई है। अब पुलिस ने उस कपड़े को जांच के लिए भेजा है, जिससे सुशांत ने फंदा बनाया था। कपड़े का टेन्सिल टेस्ट होगा ताकि यह पता चल सके कि कपड़ा सुशांत के शरीर का वजन उठाने लायक था या नहीं।

पुलिस सूत्रों के अनुसार सुशांत के घर से कोई भी नोट नहीं मिला था। सुशांत ने 14 जून को अपने घर की सीलिंग से लटककर जान दे दी थी। फंदा बनाने के लिए उन्होंने कॉटन से बने नाइटगाउन का इस्तेमाल किया था। पुलिस जांच के दौरान स्पॉट से वायरल हुए वीडियोज में यह हरा नाइटगाउन दिखाई दिया था।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने यह नाइटगाउन कैमिकल और फॉरेन्सिक जांच के लिए फॉरेन्सिक साइंस लेबोरेट्री कलिना में भेजा है। कपड़े की टेन्सिल टेस्ट की रिपोर्ट सोमवार तक आ सकती है। पुलिस ने बताया कि सही वजह का पता लगाने के लिए, फॉरेंसिक विशेषज्ञ सुशांत के गले के आसपास फंदा डालने से बने निशानों की जांच करेंगे।
टेन्सिल टेस्ट के तहत किसी भी पदार्थ की भार सह सकने की क्षमता को मापा जाता है। यानी कोई पदार्थ बिना टूटे कितना भार उठा सकता है। सुशांत का वजन करीब 80 किलो था। सुशांत के मोबाइल फोन की फॉरेन्सिक रिपोर्ट आना भी बाकी है। हालांकि, एफएसएल से रिपोर्ट आने में 8 से 10 दिन लगते हैं। यह मामला संवेदनशील है इसलिए एक्सपर्ट अपनी जांच में किसी भी तरह की गलती नहीं करना चाहते हैं।

सुशांत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा 24 जुलाई को ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज होने वाली है। जिसके पहले 6 जुलाई को उसका ट्रेलर रिलीज हो रहा है। फिल्म का डायरेक्शन मुकेश छाबड़ा ने किया है। संजना सांघी फिल्म से डेब्यू कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirty + = 33