छह नए रूटों पर भी चलाई जाएगी देश की पहली निजी ट्रेन तेजस

New Delhi: देश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस के चलने का एलान हो चुका है। यह ट्रेन उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से देश की राजधानी नई दिल्ली के आनंद विहार स्टेशन के बीच चलाई जाएगी।

इसके अलावा 6 नए रूटों पर भी तेजस एक्सप्रेस को चलाने पर विचार किया जा रहा है। फिलहाल इस ट्रेन को अहमदाबाद-मुंबई, चेन्नई-मदूरै, हावड़ा-पुरी, दिल्ली-चंडीगढ़, मुंबई-शिर्डी और त्रिवेंद्रम-कन्नूर के बीच चलाने पर विचार किया जा रहा है।

रेलवे तेजस एक्सप्रेस के लिये ऐसे रूट्स को चुन रहा है जो 500 किलोमीटर के अंदर हों और जिस पर एक दिन में यात्रा पूरी की जा सके। लखनऊ-दिल्ली रूट पर निजी तेजस एक्सप्रेस ट्रेन चलाने के बाद देश के कई अन्य रूट्स पर भी ऐसी ट्रेनों को चलाने का निर्णय लिया गया है।

रेलवे का मानना है कि इससे यात्रियों को तो फायदा होगा ही, साथ ही साथ रेलवे की कमाई में भी बढ़ोतरी होगी।भारतीय रेलवे ने अपनी कैटरिंग व टिकटिंग इकाई आईआरसीटीसी को निजी ट्रेन चलाने की जिम्मेदारी सौंपी है।

फिलहाल आईआरसीटीसी केवल दो निजी ट्रेनों का संचालन कर रहा है, लेकिन इनकी संख्या में इजाफा हो सकता है। ट्रेन को किराये पर देने से रेलवे वित्त विकास निगम की कमाई में इजाफा होने की उम्मीद है।

तेजस एक्सप्रेस के संचालन और रूट व स्टॉपेज को लेकर रेलवे बोर्ड व आईआरसीटीसी अधिकारी फिलहाल विचार करने में जुटे हुए हैं। इस ट्रेन का संचालन लखनऊ-कानपुर-अलीगढ़ रूट पर किया जाएगा।

तेजस एक्सप्रेस, लखनऊ से सुबह 6.50 बजे चलकर दोपहर के 1.20 बजे दिल्ली के आनंद विहार,टर्मिनल हुंचेगी और वापसी में आनंद विहार से दोपहर 3.50 बजे चलकर रात 10.05 बजे लखनऊ पहुंचेगी।

ट्रेन लखनऊ से मानक नगर, कानपुर होते हुए आनंद विहार जाएगी। इस रूट के बड़े स्टेशनों में टुंडला, अलीगढ़ व इटावा जंक्शन जैसे स्टेशन शामिल हैं, जिस पर इस ट्रेन का ठहराव हो सकता है।

ट्रेन का शेड्यूल भी जारी किया जा चुका है। इसके मुताबिक, फिलहाल ट्रेन को हफ्ते में छह दिन सोमवार, मंगलवार, बुधवार, शुक्रवार, शनिवार व रविवार को चलाया जाएगा। गुरुवार को ट्रेन का संचालन बंद रहेगा।