शानदार उड़ान : तेजस की अंतिम बाधा पार, अब सेना में शामिल होने को तैयार

New Delhi :  सेना की शान बढ़ाने के लिये तेजस अब पूरी तरह से तैयार है। मंगलवार को तेजस ने आख़िरी बाधा भी पार कर ली।मंगलवार को जब तेजस टेस्ट उड़ान पर निकला तो सबकी साँसें थम गई। तेजस की चाल और उड़ान देखते ही बन रही थी।

इस पर Hindustan Aeronautics Limited (HAL)  वे कहा इसमें तेजस की उड़ान पूरी तरह मानक पर सफल रही है। HAL नेCEMILC की तरफ से Drawing Aplicability List (DAL) और SOP जारी होने के महज 12 महीने के रिकॉर्ड समय में इससफलता को हासिल कर लिया है।

यहां एचएएल एयरपोर्ट से दोपहर 12.30 बजे उड़ान भरने वाले तेजस विमान में पायलट की भूमिका में सेवानिवृत्त एयर कमोडोर चीफटेस्ट फ्लाइंग (फिक्स्ड विंग) केए मुथाना मौजूद रहे। हवा में ईंधन भरना और बियांड विजुअल रेंज (बीवीआर) मिसाइल सिस्टम सरीखेकई एडवांस फीचर वाले इस तेजस विमान ने करीब 40 मिनट तक हवा में अपना जलवा बिखेरा। 

HAL के CMD R Madhwan के मुताबिक, इस उड़ान में एलसीए तेजस कार्यक्रम के विभिन्न हितधारकों एचएएल, वैमानिकी गुणवत्ताआश्वासन महानिदेशालय, सेंटर फॉर मिलिट्री एयरवर्थनेस और सर्टिफिकेशन, भारतीय वायुसेना एयरोनॉटिकल डेवलपमेंट एजेंसी केसराहनीय टीम वर्क का योगदान रहा।

एचएएल के सीएमडी माधवन का कहना है कि पहले तेजस की इस सफल उड़ान से 15 अन्य विमानों के निर्माण को एफओसी ब्लॉक सेमंजूरी मिलने का रास्ता साफ होगा। इन विमानों को अगले वित्त वर्ष में भारतीय वायुसेना को सौंप दिए जाने की योजना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixty seven + = seventy five