शोहदों ने जान ली- 3.8 करोड़ की स्कॉलरशिप ले US में पढ़ रही थी चायवाले की बेटी, 20 को जाना था US

New Delhi : उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में छेड़छाड़ से बचने की कोशिश में एक छात्रा की सड़क हादसे में जान चली गई। घटना गढ़ हाइवे स्थित चरौरा मुस्तफाबाद गांव के पास सोमवार सुबह 11 बजे हुई। छात्रा का नाम सुदीक्षा भाटी है। वह लॉकडाउन के दौरान अमेरिका से लौटी थी। सुदीक्षा को केंद्र सरकार से स्कॉलरशिप मिली थी। वह अमेरिका के बॉब्सन कॉलेज में बिजनेस मैनेजमेंट का कोर्स कर रही थी। उसे एचसीएल के स्पॉन्सरशिप से पिछले साल 3.80 करोड़ रुपये की स्कॉलरशिप मिली थी। सुदीक्षा जून में भारत लौटी थी और उसे 20 अगस्त को अमेरिका लौटना था।

परिवार का आरोप है कि बाइक सवार कुछ लोग उससे छेड़खानी कर रहे थे। एक्सीडेंट में सुदीक्षा के चाचा भी गंभीर रूप से घायल हुये हैं। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। सुदीक्षा अपने चाचा निगम भाटी के साथ बाइक पर मामा के घर माधवगढ़ जा रही थी। वे बुलंदशहर-गढ़ हाइवे स्थित चरौरा मुस्तफाबाद गांव के मोड़ के पास पहुंचे। यहां उनकी बाइक की बुलेट सवार से टक्कर हो गई। इसमें सुदीक्षा की मौके पर ही जान चली गई। निगम गंभीर रूप से घायल हो गये। बुलेट सवार फरार हो गये। पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और उसने निगम को अस्पताल में भर्ती कराया।

सुदीक्षा के परिवार का आरोप है कि बुलेट सवार युवक बार-बार स्कूटी को ओवरटेक कर रहा था। उसने स्कूटी के सामने आकर अचानक ब्रेक मारा। इससे निगम ने स्कूटी पर कंट्रोल खो दिया। निगम और सुदीक्षा दोनों नीचे गिरे। सीबीएसई इंटरमीडिएट में 2018 में टॉपर रही छात्रा सुदीक्षा भाटी के चाचा और प्रत्यक्षदर्शी ने बाइक सवार युवकों पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है।

सुदीक्षा गौतमबुद्धनगर जिले में दादरी तहसील के गांव डेरीस्कनर की रहने वाली थीं। बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने ट्वीट कर कहा है- मनचलों ने होनहार छात्रा के साथ छेड़छाड़ की। मनचलों की वजह से छात्रा को जान गंवानी पड़ी। इसकी बसपा कड़ी निंदा करती है, यह अति दुखद है। ऐसे में बेटियां कैसे आगे बढ़ेंगी। पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने प्रदेश सरकार से इस मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

75 − = seventy