पीएम मोदी ने कचरा बिनने वालों को किया सलाम, उन्हें बापू के सपने को पूरा करने वाला बताया

New Delhi : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज मथुरा के स्वछता से सेवा आभियान की शुरूआत की। उन्होंने इस कार्यक्रम की शुरूआत करने से पहले कचरा बिनने वाली महिलाओं से बातचीत की। उन्होंने कहा कि मैं बापू के सपने को पूरा करने के लिए उनकी मेहनत और योगदान के लिए उन्हें सलाम करता हूं।

 

पीएम मोदी आज मथुरा की रैली में आज उन महिलाओं से मिले जो कचरे से प्लास्टिक उठाती हैं और उनकी मदद के लिए हाथ बढ़ाती हैं। पीएम आज सिंगल उपयोग वाले प्लास्टिक उत्पादों के खिलाफ अभियान शुरू करेंगे। प्रधानमंत्री ने उन महिलाओं से बातचीत की और जाना कि किस तरह से कूड़े से प्लास्टिक को अलग किया जाता है।

स्वछ्ता कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए पीएम ने कहा कि महात्मा गाँधी 150 ये प्रेरणा का वर्ष है। स्वच्छता ही सेवा के पीछे भी यही भावना छुपी हुई है। आज से शुरू हो रहे इस अभियान को इस बार विशेष तौर पर प्लास्टिक के कचरे से मुक्ति के लिए समर्पित किया गया है।

उन्होंने आगे कहा कि आज स्वच्छता ही सेवा अभियान की शुरुआत हुई है, नेशनल एनीमल डिजीज कंट्रोल प्रोग्राम को भी लॉन्च किया गया है। पशुओं के स्वास्थ्य, पोषण, डेरी उद्योग और कुछ अन्य परियोजनाएं भी शुरु हुई हैं। इसके अलावा मथुरा के इंफ्रास्ट्रक्चर और पर्यटन से जुड़े कई परियोजनाओं शुभारंभ भी हुआ।

मथुरा में पीएम ने कहा कि ब्रजभूमि ने हमेशा से ही पूरे विश्व और पूरी मानवता को प्रेरित किया है। आज पूरा विश्व पर्यावरण संरक्षण के लिए रोल मॉडल ढूंढ रहा है। लेकिन भारत के पास भगवान श्रीकृष्ण जैसा प्रेरणा स्रोत हमेशा से रहा है, जिनकी कल्पना ही पर्यावरण प्रेम के बिना अधूरी है। उन्होंने आगे कहा कि नए जनादेश के बाद कान्हा की नगरी में पहली बार आने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। इस बार भी पूरे उत्तर प्रदेश का पूरा आशीर्वाद मुझे और मेरे साथियों को प्राप्त हुआ है। देशहित में आपके इस निर्णय के लिए में ब्रजभूमि से आपके सामने शीश झुकाता हूं।