सुशांत के फैन्स ने PM Modi से की सीबीआई जांच की मांग, #PMModiCBIForSSR ट्रेंड कर गया

New Delhi : सुशांत सिंह राजपूत के जाने के इतने दिन बाद भी फैन्स लगातार सोशल मीडिया पर अपने फेवरिट ऐक्टर के लिए कैंपेन चला रहे हैं। सोशल मीडिया की पोस्ट्स को देखें तो फैन्स मुंबई पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं हैं और अब उन्होंने सीधे भारत के प्रधानमंत्री से सुशांत के केस की सीबीआई जांच कराये जाने की मांग कर दी है।
बॉलिवुड और फैन्स का एक बड़ा वर्ग का कहना है कि सुशांत फिल्म इंडस्ट्री में खेमेबाजी और नेपोटिजम के शिकार हुये। इसी कारण वह डिप्रेशन में थे। मुंबई पुलिस भी अब प्रफेशनल राइवलरी के ऐंगल से जांच कर रही है। लेकिन फैन्स इससे संतुष्ट नहीं हैं। सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं।

ऐसे मामलों में केवल राज्य सरकार की अनुशंसा पर ही कोई केंद्रीय एजेंसी जांच कर सकती है। ऐसे में सीबीआई जांच के लिए यह जरूरी है कि महाराष्ट्र की राज्य सरकार सीबीआई जांच के लिए केंद्र सरकार से अनुशंसा करे। सुशांत केस में मुंबई पुलिस अभी तक 28 लोगों से पूछताछ कर चुकी है। अभी पुलिस डायरेक्टर संजय लीला भंसाली से भी पूछताछ कर रही है। संजय लीला भंसाली ने अपनी कुछ बड़ी फिल्में सुशांत को ऑफर की थीं लेकिन एक प्रॉक्डशन हाउस के कॉन्ट्रैक्ट के चलते वह ये फिल्में नहीं कर पाये। बाद में रणवीर सिंह को ये सारी फिल्में मिलीं।
इधर सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा का ट्रेलर सोमवार को रिलीज हो गया। उनके फैंस इसका इंतजार बड़ी बेसब्री से कर रहे थे। इसे लेकर इतनी दीवानगी थी कि यूट्यूब अपलोड होने के शुरुआती दो घंटे में ही करीब 5 लाख लोगों ने इसे देख लिया। ये फिल्म 24 जुलाई को ओटीटी प्लेटफॉर्म डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर स्ट्रीम होगी।

करीब ढाई मिनट के फिल्म के इस ट्रेलर में सुशांत छाये हुये हैं। ट्रेलर में उनके कई बेहतरीन डायलॉग्स हैं, जिसके जरिये वे फिल्म में कैंसर से जूझ रही एक्ट्रेस संजना सांघी को हंसाने और उनका दुख कम करने की कोशिश करते हैं।

ट्रेलर में सुशांत का पहला डायलॉग है- तुम्हारा नाम किस ने रखा.. किसी.. तब संजना बताती हैं कि ‘मेरा नाम किजी है’। आगे संजना कहती हैं, ‘तुम सेफ नहीं लगते, सीरियल किलर टाइप के लगते हो’। तो जवाब में सुशांत कहते हैं… ‘मैं सीरियल किलर, तुम सीरियल किसर, क्या जोड़ी है।’ सुशांत का एक अन्य डायलॉग है, ‘एक था राजा एक थी रानी, दोनों मर गए खत्म कहानी… पर ये कहानी अधूरी है इसे पूरा वो राजा और रानी करते हैं।’ इसके अलावा एक अन्य डायलॉग में वे कहते हैं, ‘जनम कब लेना है और मरना कब है हम डिसाइड नहीं कर सकते, पर कैसे जीना है वो हम डिसाइड कर सकते हैं। सेरी किजी बासु।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

forty eight + = 58