अभी-अभी: 4 जनवरी को होगी अयोध्या मामले पर सुनवाई, क्या आएगा कोर्ट का सुप्रीम फैसला

New Delhi: अयोध्या मामले को लेकर अब एक बड़ी खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि, 4 जनवरी को विवादित जन्मभूमि पर कोर्ट का फैसला आ सकता है। अब देखना होगा कि, क्या नए साल पर देश की जनता को कोई अच्छी खबर सुनने को मिलेगी। या एक बार फिर मामले में पेचीदगी नजर आएगी। हालांकि अब तो यह 4 जनवरी को ही साफ होगा कि, कोर्ट सुप्रीम फैसला सुनाता है या नहीं।

 

4 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फैसला

देश की जनता और राम भक्तों को नए साल पर राम जन्मभूमि विवाद से जुड़े मामले में एक अच्छी खबर सुनने को मिल सकती है। रिपोर्ट के मुताबिक़, 4 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट अयोध्या मामले पर एक बड़ा फैसला सुना सकता है। अब देखना होगा कि, क्या नए साल पर जनता को कोई अच्छी खबर सुनने को मिलेगी या नही।

योगी ने कहा था-मंदिर का निर्माण सिर्फ हम ही करवा सकते हैं

मिशन 2019 की तैयारी में इन दिनों सभी पार्टियां जनता को लुभाने में लगी हैं। वहीं इसी बीच राम मंदिर निर्माण को लेकर भी सियासी हलचल अपने चरम पर है। इस कड़ी में अब सीएम योगी ने एक बार फिर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जनता से कहा कि, अगर वह कह रहे हैं कि, जनता मंदिर बनवाने वाले को ही वोट देगी। तो हम उनको बता दें कि, हम ही मंदिर का निर्माण करवा सकते हैं। जाहिर है पिछले दिनों मंदिर निर्माण को लेकर अध्यादेश लाये जाने की मांग की गई थी। लेकिन अभी इसपर कुछ आदेश नहीं आया है।

Mandir

मंदिर निर्माण को लेकर अध्यादेश की मांग

एक तरफ जहां देश में सियासी घमसान जारी है, तो इसी बीच राम मंदिर निर्माण को लेकर भी हलचल तेज है। पिछले दिनों विहिप के लाखों कार्यकर्ता दिल्ली के रामलीला मैदान पहुंचे थे और उन्होंने वहां जमकर नारेबाजी की। विहिप के महासचिव सुरेंद्र जैन ने कहा कि अगर किसी स्थिति में संसद के शीतकालीन सत्र में विधेयक नहीं लाया गया तो अगली ‘धर्म संसद’ में आगे के कदम पर फैसला होगा।