बिहार: बेगूसराय में हिं’सक झ’ड़प, BJP और CPI के कार्यकर्ता आपस में भि’ड़े, पथ’राव

बिहार के बेगूसराय से हिंसा की खबरें आ रही हैं। भारतीय जनता पार्टी और सीपीआई कार्यकर्ताओं ने पत्थरबाजी की है।यहां से कन्हैया कुमार चुनावी मैदान में हैं लेकिन अब तक आए चुनावी रुझानों के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के नेता गिरिराज सिंह जीत दर्ज करते दिखाई दे रहे हैं

चुनाव परिणामों के रुझानों के बीच दोनों पार्टी के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए हैं।दोनों के बीच पत्थरबाजी और हिंसा की खबरें आ रही हैं। एसपी के नेतृत्व में बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंची गई है। यह घटना नगर थाना क्षेत्र के पटेल चौक स्तिथ सीपीआई  के जिला कार्यालय के सामने हुई घटना।

मतगणना से एक दिन पहले ही गृह मंत्रालय की तरफ से सभी राज्यों को मतगणना केंद्रों पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात करने का आदेश जारी किया गया था। गृह मंत्रालय को शंका थी कि मतगणना के दौरान हिंसक वारदात अंजाम ले सकती है। इसलिए इस लिहाज से मतगणना केंद्रों की सुरक्षा की जिम्मेदारी के लिए चेतावनी जारी करते हुए राज्य के सभी राज्यों के डीजीपी को विशेष तौर पर गृह मंत्रालय की तरफ से आदेश जारी किए गए थे।

बता दें लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम के लिए वोटों की गिनती जारी है जिसमें बिहार की 40 सीटों में से 35 से ज्यादा सीटों पर एनडीए अपनी बढ़त बनाए हुए है। परिणाम के लिए वोटों की गिनती सुबह आठ बजे से शुरू हुई और दोपहर के बाद नतीजे सामने आने लगे। बिहार में मोदी लहर चल रही है तो वहीं महागठबंधन बिल्कुल बेअसर दिख रहा है। 40 लोकसभा सीटों पर इस बार राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) और महगठबंधन (Grand Alliance) के बीच कड़ा मुकाबला है।

कड़ी सुरक्षा के बीच वोटों की गिनती 34 केंद्रों पर मतगणना हो रही है। एक ओर जहां एनडीए प्रत्याशी जीत से उत्साहित हैं तो वहीं महागठबंधन के समर्थकों के बीच निराशा साफ दिखाई दे रही है। इस चुनाव में कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। महागठबंधन के दिग्गज नेताओं में शत्रुघ्न सिन्हा, रघुवंश प्रसाद सिंह, मुकेश सहनी, उपेंद्र कुशवाहा, जीतनराम मांझी के भी जीतने के आसार कम ही नजर आ रहे हैं।

kaushlendra

सामाजिक और राजनीतिक विषयों पर लिखने में दिलचस्पी है।गांधी जी का फैन हूँ।समाज में जागरुकता लाना उद्देश्य है।पत्रकारिता मेरा प्रोफेशन है,जुनून है और प्यार भी है।
kaushlendra