सपा नेता का बयान, कहा- कानून का विरोध कर रहे लोगों को हमारी सरकार देगी पेंशन

New Delhi : नागरिकता संशोधित कानून को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। विपक्ष सरकार पर इस मुद्दे को लेकर लगातार हमलावर है। विपक्ष एक के बाद एक बयान जारी कर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के फैसले को असंवैधानिक बता रहा है। अब इसी बीच यूपी विधानसभा में विपक्ष के नेता रामगोविंद चौधरी ने एक अजीबोगरीब बयान दिया है।

रामगोविंद चौधरी ने CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों का समर्थन करते हुए कहा है कि उनकी सरकार आने पर विरोध कर रहे लोगों को पेंशन दिया जाएगा।उन्होंने कहा कि इसके खिलाफ सपा का सत्याग्रह तबतक जारी रहेगा जब तक बीजेपी सरकार इसे वापस नहीं लेती।

एक तरफ जहां कांग्रेस समेत सभी विपक्षी पार्टियां कानून का विरोध कर रही है तो वहीं केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार लोगों को इस कानून को समझाने का प्रयास कर रही है। इसके मद्देनजर मुंबई में रेल मंत्री पीयूष गोयल लोगों को CAA समझाने में जुट गए हैं।

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि शायद विपक्ष इस मुद्दे पर कंफ्यूज है या फिर वह जानकर जनता को गुमराह कर रही है। हम अगले 10 दिनो में 3 करोड़ जनता से मिलकर उन्हें CAA के बारे में जागरूक करेंगे। उन्होंने कहा,” 1951 में ये तेय हुआ था कि जो माइनॉरिटी भारत आए हैं उनका ध्यान भारत करेगा। कांग्रेस इस विभाजन के लिए ज़िम्मेदार है। सत्ता के लालच में उन्होंने देश का विभाजन किया।”