सीताराम येचुरी ने कहा जम्मू कश्मीर पर झूठ बोलना बंद करे सरकार, राज्य की स्थिति अच्छी नहीं

New Delhi : मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि हमारे किसी भी नेता, उनके ठिकाने या कानून के बारे में कोई जानकारी नहीं है जिसके तहत उन्हें हिरासत में लिया गया है। उन्होंने आगे कहा कि जब हम शुक्रवार को श्रीनगर गए, तो हमें वास्तव में एहसास हुआ कि स्थिति सामान्य से बहुत दूर है। मकपा नेता ने अपने ट्वीट में लिखा कि कश्मीर में जमीन पर स्थिति के बारे में सरकार कम से कम झूठ बोलना बंद कर सकना चाहिए।

आपको बता दें कि सोमवार को सीताराम येचुरी ने कहा था कि कश्मीर के लोगों को उनके ही घरों में कैद किया गया है। साथ ही उन्होंने सरकार को आगाह किया कि जम्मू कश्मीर के दर्जे में बदलाव का असर विशेष दर्जा प्राप्त अन्य राज्यों में महसूस किया जाएगा

इससे पहले आज जम्मू-कश्मीर के प्रिंसिपल सेक्रेटेरी (वाणिज्य और उद्योग), जम्मू-कश्मीर, एनके चौधरी ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में 12-14 अक्टूबर से इन्वेस्टर्स समिट होगा। उन्होंने आगे कहा कि यह अब तक का पहला वैश्विक शिखर सम्मेलन होगा जो राज्य द्वारा आयोजित किया जा रहा है। इस शिखर सम्मेलन के उद्घाटन सत्र 12 अक्टूबर को श्रीनगर में आयोजित किया जाएगा।

आपको बता दे कि कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद भारत सरकार ने कहा था कि राज्य के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। पीएम मोदी ने भी कहा था कि जम्मू कश्मीर अब विकास के पथ पर आगे बढ़ेगा। इस इन्वेस्टर्स समिट से भी राज्य में निवेश बढ़ेगा और निवेश बढ़ने से रोजगार के अवसर भी बढेंगे। सोमवार को रिलायंस ग्रुप के मालिक मुकेश अंबानी ने भी राज्य में निवेश के संकेत देते हुए कहा था कि हम जल्द जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लिए नई घोषणाएं करेंगे।