योगी के मंत्री ने ही कसा तंज, राममंदिर के नाम पर वोट लेंगे लेकिन निर्माण की तारीख नहीं बताएंगे

New Delhi: दिन पर दिन राम मंदिर का मुद्दा गरमाता जा रहा हैं। राजनेता समेत साधू-संतों के बयान भी सामने आ रहे है। इस कड़ी में यूपी के Deputy CM Keshav Prasad Maurya ने बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा राम मंदिर को लेकर योगी सरकार कुछ नहीं कर सकती। मौर्य ने कहा कि मामला कोर्ट में विचारधीन हैं, इसलिए इस पर कुछ ही कहना या करना कोर्ट का अपमान होगा।

इस बयान के खिलाफ BJP Party के ही नेता ने तंज कसा। दरअसल, प्रयागराज के BJP MP Shyama charan Gupta ने कहा है कि हम किसी कीमत पर यह नहीं बताएंगे कि मंदिर कब बनाएंगे, जब मंदिर बनना शुरू हो जाएगा तो उस बारे में सबको जानकारी दे दी जाएगी। हम लोग मंदिर को लेकर तारीख भले ही न बताएं, लेकिन उसके नाम पर वोट ज़रूर ले लेंगे। श्यामाचरण गुप्ता ने कहा कि बीजेपी जैसे-तैसे करके, हर हथकंडे अपनाकर वोट ले लेगी। ज़रुरत पड़ने पर लोगों के हाथ पैर जोड़ लेगी, मूर्तियां लगवा देगी और उनसे बड़े बड़े वायदे भी कर लेगी।

आपको बता दें कि मौर्य ने अपने बयान में कहा था कि राम मंदिर आने वाले समय में जरूर बनेगा, लेकिन कब बनेगा, इसकी तारीख का योगी सरकार ऐलान नहीं कर सकती है। वहीं जब इस मामले में CM Yogi Adityanath से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि मामला कोर्ट में होने के चलते इस पर कोई कदम नहीं उठाया जा सकता हैं, वहीं जब पूछा गया कि उन्हें क्या लगता हैं कि आगे की सुनवाई में उनके पक्ष में फैसला होगा तो उन्होंने कहा कि हमें कोर्ट पर पूरा यकीन हैं, हमें पूरी उम्मीद हैं कि अगली सुनवाई में जरूर हमें खुशखबरी मिलेगी।

जानकारी के लिए आपको बताते चले कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दीपावली पर अयोध्या जाएंगे। इस पर सीएम योगी ने कहा कि कि राम मंदिर का मुद्दा सैकड़ों साल से चल रहा है। एक तारीख बढ़ने से संतों को धैर्य नहीं खोना चाहिए। वह संतों से इस बारे में बातचीत करेंगे। योगी ने कहा कि वहां मंदिर था, है और रहेगा। हम चाहते हैं कि सर्वसम्मति से इसका हल निकले, अन्यथा और भी विकल्प हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *