रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से जाना जाता है शोएब अख्तर को, फेंकी है दुनिया की सबसे तेज गेंद

New Delhi : पूर्व पाकिस्तानी ते’ज गेंदबाज और रावलपिंडी ए’क्सप्रेस के नाम से मशहूर Shoaib Akhtar का आज जन्मदिन है। शोएब अख्तर ने आज अपनी जिंदगी के 44 वर्ष पूर्ण कर लिए हैं। अपनी ते’ज र’फ़्तार गेंद से वि’पक्षी बल्लेबाजों के छ’क्के छु’ड़ाने वाले अख्तर को उनकी आ’ग उ’गलती गेंदबाजी के लिए जाना जाता है। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के रावलपिंडी में जन्मे शोएब अख्तर ही ऐसे पहले गेंदबाज थे जिन्होंने क्रिकेट की दुनिया में 100 मी’ल प्रति घं’टा का बै’रियर पार किया था। 100 साल से भी ज्यादा पुराने क्रिकेट के इ’तिहास में पहली बार इतनी ते’ज गेंद किसी ने फें’की थी। शोएब अख्तर ने इंग्लैंड के खि’लाफ एक मैच में 161.3 किमी प्रति घंटे की र’फ्तार से गेंद की थी। 

22 वर्ष की उम्र में 1997 में वेस्टइंडीज के खि’लाफ अपने अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट डेब्यू करने वाले अख्तर ने पाकिस्तान के लिए 46 टेस्ट मैच खेले हैं। जिसमें उन्होंने 25.69 की औसत और 3.37 के कम स्ट्राइक रेट से कुल 178 विकेट लिए हैं। उनका स’र्वश्रेष्ठ प्र’दर्शन 11 रन देकर 6 विकेट है। शोएब ने पाकिस्तान के लिए 163 एकदिवसीय मैच खेले हैं। जिसमें कि 162 पारियों में उन्होंने 24.97 की औसत और 4.76 के कम स्ट्राइक रेट से कुल 247 विकेट लिए हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 16 रन देकर 6 विकेट है। शोएब ने पाकिस्तान के लिए 15 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच भी खेले हैं। जिसमें उन्होंने 22.73 की औसत से कुल 19 विकेट लिए हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 38 रन देकर विकेट है।

444 इंटरनेशनल विकेट झटकने वाले शोएब अख्तर के नाम एक चलते-फिरते बल्लेबाज के तौर भी एक वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है। दरअसल, शोएब अख्तर एक मात्र ऐसे बल्लेबाज हैं, जो लगातार 12 वनडे इंटरनेशनल मैचों में नाबाद लौटे हैं। शोएब अख्तर का ये रिकॉर्ड आज तक अटूट है।