सावन के सोमवार में करें महादेव के शिवलिंग की पूजा, हर मुराद पूरी करेंगे महाकाल

New Delhi : 17 जुलाई से सावन शुरू हो रहा है। सावन में महादेव की विशेष पूजा की जाती है। सावन के सोमवार में शिवलिंग की पूजा करने से महाकाल प्रसन्न होते हैं और भक्तों की सभी मुराद पूरी करते हैं। इस दिन ज्येष्ठा नक्षत्र और वैधृतियोग में शिव का जलाभिषेक करना अत्यंत लाभकारी होगा।

इस दिन धन और संतान की इच्छा रखने वाले लोगों को भगवान शिव की अभिषेक करना चाहिए। सावन के आखिरी सोमवार के दिन शिवलिंग पर जलाभिषेक करने का खास महत्व है। इस दिन ॐ गौरिशंकराय नमः मंत्र का जाप करते हुए शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए। इसका विशेष लाभ प्राप्त होता है।

इसके लिए सुबह स्नान कर साफ वस्त्र धारण करें। साफ लोटकी में जल भरें, अगर गंगाजल है तो उत्तम होगा। शिवलिंग पर अर्पित करें। अगर कोई मंत्र याद नहीं है तो ऊं नम: शिवाय मंत्र का जाप करें। मंत्र का जाप आप अपनी इच्छानुसार कर सकते हैं। जातक अगर चाहे तो इसका 108 बार जाप कर सकता है। तत्पश्चात चंदन, फूल, बिल्वपत्र आैर अक्षत चढ़ाएं। अगर व्रत रख रहे हैं तो इस दिन सिर्फ फलाहार ही करें।

शाम को भगवान शंकर की पूजा अर्चना करें और अगले दिन स्नान कर पूजा करें और दान कर अपना व्रत का पारण करें। सावन मास का चौथा और अंतिम सोमवार श्रद्धालुओं के आर्थिक कष्टों का निवारण करने वाला है। सावन के चौथे सोमवार को भगवान शंकर की आराधना करने से आपको शत्रुओं पर विजय प्राप्त होगी। वहीं, कार्यक्षेत्र और जीवन के दूसरे क्षेत्रों में आने वाली बाधाओं का भी निवारण हो जाएगा। इसके अलावा संतान प्राप्ति की इच्छा रखने वाले जातकों की भी आज इच्छा पूरी हो सकती है। धन और संतान की इच्छा रखने वाले लोगों को शिवलिंग का आज अभिषेक जरूर करना चाहिए।