किसानों को 6 हजार सालाना देने पर शशि थरूर का पलटवार, कहा-क्या इतने में किसान गुजारा कर पायेगा

New Delhi: लोकसभा चुनाव से पहले आज मोदी सरकार अंतरिम बजट पेश कर रही है, जिसे पीयूष गोयल पेश कर रहे हैं। इस दौरान पीयूष गोयल ने कहा कि हमारी सरकार ने कमरतोड़ महंगाई की कमर तोड़ दी। उन्होंने कहा कि स्थायी ग्रोथ के लिए देश ने पिछले पांच साल में काफी काम किया है।

इस बजट को सीएम योगी ने न्यू इंडिया का बजट बताया, तो वहीं अब शशि थरूर ने बजट को लेकर मोदी सरकार पर पलटवार किया है। शशि थरूर ने कहा कि, सकरार ने 6 हजार रुपये सालाना दिया है, यानी 500 रुपये प्रति माह। ऐसे में इतनी कम रकम से किसान का क्या होगा, क्या वह होना जीवन खुशहाल और सम्मान के साथ जी पायेगा।

 

शशि थरूर ने बजट को लेकर केंद्र सरकार पर किया पलटवार

लोकसभा चुनाव से कुछ दिन पहले आज मोदी सरकार ने जनता को लुभाने के लिए बजट पेश किये। केंद्र सरकार के इस बजट में किसानों से लेकर गरीब, तो वहीं छात्रों के लिए ख़ास एलान हुए हैं। बजट को न्यू इंडिया का बजट बताते हुए सीएम योगी बोले-यह बजट किसान, मजदूर, छात्र हर किसी को ध्यान में रखकर पेश किया गया है। इस बजट से देश के हर वर्ग के लोगों को लाभ होगा। वहीं अब बजट को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर शशि थरूर ने निशाना साधा है और कहा कि, किसानों को 6 हजार रुपये देकर सकरार क्या जताना चाह रही है। जाहिर है सरकार ने किसानों को मात्र 6 हजार रुपये देने का एलान किया है जिसमे एक इंसान परिवार के साथ गुजर बसर नहीं कर सकता है।

https://twitter.com/ANI/status/1091240849512353794

सरकार ने दिया 2022 का लक्ष्य

वहीं सरकार ने टैक्स स्लैब में बदलाव कर आम लोगों को भी राहत दी है। उन्होंने यह भी दावा किया कि भारत सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन गया है। साथ ही अब सरकार कालेधन को खत्म करके ही दम लेगी। वहीं नोटबंदी के दौरान अब तक 1 करोड़ लोगों ने पहली बार टैक्स दिया है। इसके अलावा गोयल ने कहा कि भारत अब उपग्रह प्रक्षेपण का केंद्र बन चुका है। साथ ही साल 2022 से पहले मिशन गगनयान का मिशन सरकार पूरा करेगी।

Input; ANI