ऑटो सेक्टर में आई भारी मंदी के कारण अब शेयर बाजार हुआ धड़ाम

New Delhi : मंदी की मार झेल रहे ऑटो सेक्टर का प्रभाव मंगलवार को शेयर बाजार पर भी दिखा। शेयर बाजार में आज भारी गिरावट देखने को मिली। बीएसई एसएंडपी सेंसेक्स 624 अंकों की गिरावट के साथ 36,958 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 50 184 अंकों की गिरावट के साथ 10,925 पर बंद हुआ। शेयर बाजार में ये भारी अंको की गिरावट है।  लुढ़कने वाले शेयरों में यस बैंक, बाजाज फाइनैंस, महिंद्रा ऐंड महिंद्रा, मारुति, भारती एयरटेल और एचडीएफसी जैसी दिग्गज कंपनियों के शेयर प्रमुख रूप से शामिल थे।
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में सभी सेक्टोरल इंडेक्स निफ्टी ऑटो में 3.95 प्रतिशत, 2.98 प्रतिशत की वित्तीय सेवा, निजी बैंकों द्वारा 2.56 प्रतिशत और आईटी में 2.51 प्रतिशत की गिरावट के साथ लाल रंग में रहे।
शेयरों में, यस बैंक हारने वालों के चार्ट में सबसे ऊपर है। यह 10.9 प्रतिशत कम होकर 73.20 रुपये प्रति शेयर पर बंद हुआ। बजाज फाइनेंस में 6 फीसदी, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 5.8 फीसदी, बजाज फिनसर्व में 5.5 फीसदी और आयशर मोटर्स में 5.3 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। निफ्टी की 50 कंपनियों में से 18 कंपनियों के शेयर हरे निशान पर, और 32 कंपनियों के शेयर लाल निशान पर कारोबार कर रहे थे।
एक जानकारी के मुताबिक ऑटो सेक्टर करीब एक साल से मंदी की चपेट में है। जुलाई माह तक की बात करें तो 2019 में ऑटो सेक्टर की बिक्री में 18.71 फीसदी कमी आई है। इनमें दुपहिया और तिपहिया वाहन भी शामिल हैं।
जुलाई माह तक इस साल 18 लाख 25 हजार 148 वाहनों की बिक्री हुई थी, जबकि 2018 में इसी अवधि में 22 लाख 45 हजार 223 थी, जो कि पिछले साल की तुलना में लगभग 4.20 लाख कम है।