चंड़ीगढ़ के एक स्कूल ने मनाया ‘ग्रीन रक्षाबंधन’, बच्चों ने बांधी पेड़ों को राखी

New Delhi: रक्षाबंधन भारत में मनाए जाने वाले सबसे प्रसिद्ध पर्वों में से एक है। इस त्यौहार पर भाई अपनी बहन से राखी बंधवाते हैं। बदले में बहन अपने भाई से रक्षा का वायदा लेती हैं। परन्तु चंड़ीगढ़ सेक्टर 70 स्थित अश्माह इंटरनेशनल स्कूल के छात्रों ने मंगलवार को हरा रक्षाबंधन मनाया।

इसका उद्देश्य छात्रों द्वारा अपने भाई-बहनों को प्रकृति की देखभाल करने के लिए प्रेरित करना था। बच्चों ने पेड़ों को राखी बांधी और उन्हें आरी और कुल्हाड़ियों से बचाने का वायदा किया। जूनियर विंग के छात्रों के लिए राखी बनाने की गतिविधि आयोजित की गई। छात्र-छात्राओं ने रंग-बिरंगी पोशाक पहनकर आए और एक दूसरे को राखी बांधी। इस बात की जानकारी एक अंग्रेजी समाचार पत्र ने दी।

स्कूल की प्रधानाचार्य शुचि ग्रोवर ने पेड़ों के मूल्य और महत्व के बारे में बताया। उन्होंने छात्रों से पेड़ों की रक्षा करने का आग्रह किया।उन्होंने बच्चों को कहा कि पेड़ों की रक्षा करो जो हमें छाया, जीविका और बहुत कुछ प्रदान करते हैं।

इसके अलावा सेंट सोल्जर इंटरनेशनल कॉन्वेंट स्कूल, फेज 7 ने बच्चों को पानी बचाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए बच्चों के लिए एक कार्यशाला का आयोजन किया। छात्रों ने न केवल बारिश गीत गाया, बल्कि विभिन्न प्रॉप्स का उपयोग करके मौसम के महत्व को भी चित्रित किया।

उन्होंने एक इंद्रधनुष गीत और नृत्य भी किया। उन्हें सिखाया गया कि पानी सबसे मूल्यवान प्राकृतिक संसाधन है और अगर हम पानी को बर्बाद और प्रदूषित करते रहेंगे, तो हम पृथ्वी पर जीवन को नष्ट कर देंगे। स्कूल की प्रिंसिपल अंजलि शर्मा ने छात्रों से कहा कि वे पानी का इस्तेमाल विवेकपूर्ण तरीके से करें और पानी का बचाए।