अभी-अभी : सोनिया से मिलकर बोले पवार-सरकार गठन पर कोई चर्चा नहीं हुई

New Delhi : महाराष्ट्र में सरकार गठन पर सस्पेंस और बढ़ गया है। दरअसल, सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि हमने महाराष्ट्र की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की है, सरकार बनाने पर नहीं। उन्होंने कहा कि हमने सोनिया गांधी को महाराष्ट्र की स्थिति के बारे में बताया है।

शरद पवार ने कहा, ”दोनों पार्टियों (कांग्रेस-एनसीपी) के वरिष्ठ नेताओं की राय लेंगे और आगे का रास्ता तय करेंगे। किसी के साथ सरकार बनाने की बात नहीं की है, संख्याबल पर बात हुई।” उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में स्वाभिमानी शेतकारी पार्टी हमारे साथ लड़ी थी, समाजवादी पार्टी भी हमारे साथ थी। इनके साथ बात नहीं हुई है, उन्हें भी विश्वास में लेना है। किसी के साथ जाने या नहीं जाने पर अभी बात नहीं हुई है। हमारे पास छह महीने हैं।

सोनिया गांधी के साथ अपनी मुलाकात से पहले शरद पवार ने कहा था कि महाराष्ट्र में सरकार गठन का दावा कर रहे सभी दलों को ‘अपना रास्ता चुनना’ होगा। उन्होंने कहा, बीजेपी-शिवसेना साथ लड़े, हम (एनसीपी) और कांग्रेस साथ मिलकर लड़े। उन्हें अपना रास्ता चुनना है और हम अपनी राजनीति करेंगे

बता दें कि शिवसेना ने दावा किया है कि तीनों पार्टियां साझा न्यूनतम कार्यक्रम पर सहमत हो गई हैं और जल्द सरकार बन जाएगी। शिवसेना कांग्रेस-एनसीपी के साथ सरकार बनाने की कोशिश में जुटी है

महाराष्ट्र में विधानसभा की 288 सीटें हैं और बहुमत के लिये जरूरी आंकड़ा 145 विधायकों का है। बीजेपी और शिवसेना ने क्रमश: 105 और 56 सीटें जीतकर बहुमत का आंकड़ा आसानी से हासिल कर लिया था लेकिन मुख्यमंत्री पद पर साझेदारी को लेकर दोनों में सहमति नहीं बनी और सरकार भी नहीं बन पाई।