बुलंदशहर हिंसा पर संजय सिंह का बयान, बीजेपी के गुंडों का राज, उनका संरक्षक योगी आदित्यनाथ

New Delhi: UP के बुलंदशहर शहर में गोवंश के कुछ टुकड़े मिलने पर 3 दिसंबर को जमकर बवाल हो गया। इस मामले में अब तक 6 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी हैं, लेकिन अभी तक मुख्य आरोपी यानी बजरंग दल का नेता पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। इस घटना को लेकर आप आदमी पार्टी के राज्य सभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह का बयान सामने आया। पीएम मोदी और सीएम योगी पर निशाना साधते सहुए संजय सिंह ने कहा कि लयोगी गोरखपुर में लेजर शो देखते रहे और पीएम मोदी प्रियंका-निक की शादी में मस्त थे।

संजय सिंह ने कहा कि बुलंदशहर में एक जांबाज इंस्पेक्टर और युवक को जान से मार दिया गया। योगी का मानसिक संतुलन खराब हो गया हैं। यूपी में बीजेपी के गुंडों का राज, उनका संरक्षक योगी आदित्यनाथ हैं। इससे पहले आम आदमी पार्टी के संयोयक और दिल्ली के मुख्यमंत्री ने बीजेपी पर निशाना साधा। दरअसल, अरविंद केजरीवाल ने ट्वीटर पर एक वीडियो शेयर की, जिसमें लोगों की बातों से ऐसा लग रहा था कि ये साजिश हैं।

Sanjay Singh

इस वीडियो को शेयर करते हुए अरविंद केजरीवाल ने लिखा कि ‘तो क्या बीजेपी वालों ने खुद गाय कटा कर फेंकी, खुद अपने गुंडे भेज कर दंगा करवाया और फिर पुलिस वाले को मरवा दिया ? ,, आपको बता दें कि मामले में गुस्साई भीड़ ने अखलाक केस के रहे इंस्पेक्टर सुबोध की जान ले ली। सुबोध के सिर में गोली लगने से उनकी मौक पर ही जान चली गई। हैरानी की बात तो ये है कि इंस्पेक्टर सुबोध को गोली लगने के बाद भी भीड़ उन्हें पीटती रही। भीड़ ने जीप से लटके सुबोध के शव का वीडियो भी बनाया।

सुबोध की पत्नी ने कहा कि मेरे पति ने पूरी ईमानदारी के साथ काम की और पूरी जिम्मेदारी अपने ऊपर ले ली। यह पहली बार नहीं हुआ है। वे दो बार गोली से घायल हो चुके थे। लेकिन उन्हें कोई इंसाफ नहीं दे रहा है। इंसाफ तभी मिलेगा जब उनके आरोपियों को मार दिया जाएगा।वहीं मामले पर इंस्पेक्टर सुबोध सिंह बहन ने बड़ा बयान दिया है। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मेरे भाई अखलाक केस की जांच कर रहे थे और यही वजह है कि उनको जान से मार दिया गया हैं। यह पुलिस की साजिश है। सुबोध की बहन ने कहा कि उन्हें शहीद का दर्जा दिए जाने की घोषणा होनी चाहिए। हमें पैसे नहीं चाहिए। मुख्यमंत्री सिर्फ गाय-गाय कह रहे हैं।