NIA कोर्ट से साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को बड़ी राहत, चुनाव लड़ने से रोकने वाली याचिका खारिज

New Delhi:  साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को NIA कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। मुंबई की NIA कोर्ट में मालेगांव बम धमाकों की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर चुनाव लड़ने से रोकने की याचिका को खारिज कर दिया है। अदलात ने सुनवाई के दौरान कहा कि हमारे पास किसी को चुनाव लड़ने से रोकने का अधिकार नहीं है। इसका निर्णय निर्वाचन आयोग कर सकता है।

मालेगांव बम धमाके के एक पीड़िता के पिता ने साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ एनआइए कोर्ट में याचिका दायर की थी। जिसमें साध्वी प्रज्ञा को चुनाव लड़ने से रोकने की मांग की गई थी। बता दें कि विस्फोट की इस घटना में अपने बेटे को खोने वाले निसार सईद नाम के व्यक्ति ने अदालत में यह अर्जी दायर की थी।

मृतक के पिता ने अर्जी में प्रज्ञा (फिलहाल जमानत पर रिहा) को मुंबई में अदालत की कार्यवाही में शामिल होने के लिए निर्देश देने और मामले में मुकदमे के प्रगति पर रहने को लेकर उनके चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मांग की थी। उत्तर महाराष्ट्र के मालेगांव शहर में यह विस्फोट सितंबर 2008 में हुआ था, जिसमें छह लोगों की मौत हो गई थी जबकि सौ से अधिक लोग घायल हो गए थे।