कलाम सहाब के जयंती सचिन तेंदुलकर ने कहा उन्होंने अंतिम सांस तक देश के लिए किया काम

New Delhi : भारत के पूर्व राष्ट्रपति और मिसाइल मैन के नाम से मश्हूर एपीजे अब्दुल कलाम को दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेन्दुलकर ने उनकी जयंती पर उनको नमन किया है। सचिन ने पूर्व राष्ट्रपति को याद करते हुए अपने ट्वीट में लिखा कि एपीजे अब्दुल कलाम ने निस्वार्थ भाव से राष्ट्र की सेवा में अपने आप को समर्पित कर दिया। सचिन ने आगे कहा कि उन्होंने अपनी अंतिम सांस तक युवाओं के साथ काम किया, और हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा बने रहेंगे।

कलाम सहाब के जयंती पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनात सिंह सहित तमाम हस्तियों ने उन्हें याद किया। पीएम मोदी ने कलाम साहब को याद करते हुए लिखा कि डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम जी को उनकी जयंती पर विनम्र श्रद्धांजलि। उन्होंने 21वीं सदी के सक्षम और समर्थ भारत का सपना देखा और इस दिशा में अपना विशिष्ट योगदान दिया। उनका आदर्श जीवन देशवासियों को सदैव प्रेरित करता रहेगा।

वहीं रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्व राष्ट्रपति को याद करते हुए कहा कि एपीजे अब्दुल कलाम की 88 वीं जयंती पर उनका आभार व्यक्त करता हूं। वह एक महान वैज्ञानिक थे। उन्होंने आगे कहा कि अनुसंधान और मिसाइल विकास में उनके योगदान ने भारत को स्वदेशी क्षमताओं के लिए जाने जाने वाले देशों की सूची में ला दिया।

आपको बता दें कि बता दें कि कलाम का पूरा नाम अवुल पाकिर जैनुल्लाब्दीन अब्दुल कलाम था। उनका जन्म आज ही के दिन 15 अक्टूबर 1931 को दक्षिण भारतीय राज्य तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुआ था। 27 जुलाई, 2015 को शिलॉंग में निधन हो गया था वे आईआईएम शिलॉन्ग में लेक्चर देने गए थे, इसी दौरान दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया था। उनके निधन के बाद सात दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा भी की गई थी।