RSS प्रमुख ने कहा आज असम भारत के साथ मजबूती से खड़ा है पर लोग कहते थे कि वह भी कश्मीर बन जाएगा

New Delhi : RSS प्रमुख मोहन भागवत नागपुर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए देश के पूर्वोत्तर राज्यों पर अपनी बात रखी।उन्होंने कहा कि लोग यह कहते थे कि एक दिन असम कश्मीर बन जाएगा, लेकिन आज, असम के लोग भारत के साथ मजबूती से खड़े हैं।

एम भागवत ने आगे कहा कि आज, अरुणाचल प्रदेश के लोग  चीन की सीमा पर खड़े होकर भारत के लिए नारे लगा रहे हैं। यह केवल इसलिए हुआ है क्योंकि 50 साल पहले, देश के लोग  उनके साथ खड़े थे। हालांकि कुछ लोगों  ने अपना धर्म बदलकर ईसाई धर्म को अपना लिया, लेकिन वे भी खुशी से RSS के कारक्रम  में भाग लेते हैं।

आपको बता दें कि तीन राज्यों के चुनाव से पहले राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को एक कार्यक्रम में कहा था कि जो आरक्षण के पक्ष में हैं और जो इसके खिलाफ हैं, उन्हें सौहार्दपूर्ण वातावरण में इस पर विमर्श करना चाहिए। इससे पहले भागवत ने बिहार विधानसभा चुनाव से पहले आरक्षण बम फोड़ा था और भारतीय जनता पार्टी बिहार में बुरी तरह से हार गई थी।

भरता का संविधान कहता है कि – जाति, लिंग, धर्म आदि के आधार पर हर व्यक्ति समान नहीं है और इस भेदभाव को स्वीकार करते हुए वंचित समूहों को लिए अलग से प्रावधान किए जाने चाहिए। समाज में फैली तमाम असमानताओं को पाटने के लिए भारत में आरक्षण का प्रावधान है।