रिया के वीआईपी ट्रीटमेंट पर सवाल- बांद्रा थाना रिया का दूसरा घर, मुम्बई पुलिस के जवान चाकरी में

New Delhi : सुशांत प्रकरण में महाराष्ट्र सरकार अपनी चौतरफा किरकिरी कराने में जुट गई है। इस प्रकरण की मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती को वीआईपी ट्रीटमेंट देकर मुम्बई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार आम लोगों की आंखों पर चढ़ती जा रही है। आम लोगों में सुशांत को लेकर इमोशन्स इतने हाई हैं लेकिन मुम्बई पुलिस की हालत ऐसी हो गई है कि उसके जवाब मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती की कार का दरवाजा खोलते-बंद करते हैं। यही नहीं रिया आते-जाते पुलिसवालों को निर्देशित भी करती जाती है। ऐसे में सवाल यह उठ रहा है कि उसको ताकत कहां से मिल रही है? राज्य सरकार से डायरेक्ट या किसी बड़े अफसर से।

हालांकि अगर मौजूदा परिस्थतियों को देखा जाये तो ऐसा साफ होता दिख रहा है कि पहले सुशांत प्रकरण में और अब रिया चक्रवर्ती के आवभगत में मुम्बई पुलिस के जवान वही कर रहे हैं जो मुख्यमंत्री के यहां से निर्देशित हो रहा है। क्योंकि किसी कैबिनेट मिनिस्टर में भी ऐसी हैसियत नहीं कि वो सरकार की किरकिरी करा कर किसी एक्ट्रेस की इतनी आवभगत करा सके। बड़े-बड़े बुद्धीजीवी और सेलेब्रिटी उनके पक्ष में ट‍्वीट कर रहे हैं। उनकी खैर मखदम में लगे हैं। इस बीच मुम्बई पुलिस का हाल ये हो गया है कि 7 सितंबर को एनसीबी की पूछताछ के बाद शाम में रिया सीधे बांद्रा पुलिस स्टेशन पहुंच गई। शाम में करीब 7 बजे रिया वहां पहुंची और रात 1 बजे थाने से निकली।
करीब 6 घंटे वो थाने में रहीं। इस बीच सुशांत के पिता के एडवोकेट विकास सिंह ने 8 सितंबर मंगलवार को प्रेस कान्फ्रेन्स कर कहा कि ऐसा लगता है कि बांद्रा पुलिस स्टेशन रिया का दूसरा घर हो गया है। मुख्य आरोपी की इतनी आवभगत कैसे की जा सकती है? उन्होंने कहा- रिया को खुश करने के लिये मुम्बई पुलिस ने एफआईआर भी दर्ज कर ली जो सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अवहेलना है। सुप्रीम कोर्ट का आदेश स्पष्ट है कि सुशांत प्रकरण से जुड़े सभी साक्ष्य बिदुओं की जांच सीबीआई ही करेगी। कोई दूसरी एजेंसी नहीं करेगी। फिर भी मुम्बई पुलिस की यह कार्रवाई और रिया का पुलिस स्टेशन में 6 घंटे तक बैठे रहना साबित करता है कि मुम्बई पुलिस किसी भी तरह रिया को खुश करना चाहती है।

रिया से आज भी एनसीबी पूछताछ कर रही है। ऐसी उम्मीद की जा रही है कि उसको गिरफ्तार करने के बाद शोविक के साथ कोर्ट में पेश किया जायेगा और नये सिरे से कस्टडी की डिमांड की जायेगी। शोविक चक्रवर्ती की कस्टडी 9 सितंबर को समाप्त हो रही है। अब देखना दिलचस्प है कि रिया को एनसीबी कब गिरफ्तार करती है और कस्टडी में कब तक लेती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixty four + = 68