गुजरात में रास चुनाव से पहले 3 विधायकों के इस्तीफे, कांग्रेस ने 21 विधायक राजस्थान शिफ्ट किये

New Delhi : कांग्रेस ने रविवार को गुजरात के 21 विधायकों को राजस्थान के अबू रोड स्थित एक रिजॉर्ट में शिफ्ट किया है। इसके साथ ही, कांग्रेस ने बीजेपी के ऊपर 19 जून को होने जा रहे राज्यसभा की 4 सीटों के लिए चुनाव से पहले उनके विधायकों की खरीद-फरोख्त की कोशिश का आरोप लगाया है। 3 विधायकों के इस्तीफे के बाद 182 सदस्यीय गुजरात विधानसभा में कांग्रेस का संख्या बल घटकर 65 रह गया है, जिसके बाद और विधयाकों को टूटने से बचाने के लिए पार्टी ने गुजरात के बनासकंठा जिले के राजकोट, अम्बाजी और आनंद में ठहराया था।
उधर, राजकोट जिले के जिस रिजॉर्ट में कांग्रस ने अपने विधायकों को ठहराया था उसके खिलाफ लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन के आरोप में केस दर्ज किया गया है। पार्टी के नेता ने बताया – राजस्थान के अबू रोड पर कांग्रेस के 21 विधायक ठहरे हुए हैं और उत्तर गुजरात से और विधायक सोमवार को और वहां पर पहुंच सकते हैं। अबू रोड राजस्थान के सिरोही जिले का हिस्सा है जो बनासकांठा जिले की सीमा से लगा हुआ है।

गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष अमित चावड़ा ने गुजरात बीजेपी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कोरोना संकट की चुनौतियों से निपटने की बजाय वह अपने तंत्र को दूसरी पार्टियों की खरीद-फरोख्त के लिए व्यस्त कर रखा है।
कांग्रेस के अक्षय पटेल और जीतू चौधरी ने तीन जून को इस्तीफे दिये थे। वहीं ब्रजेश मेरजा ने पांच जून को पार्टी छोड़ दी थी। इसके बाद 182 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस सदस्यों की संख्या 65 रह गई है। हालांकि सदन की प्रभावी संख्या इस समय 172 है। क्योंकि दस सीटें अदालतों के मामलों तथा इस्तीफों के कारण खाली हैं।
राज्यसभा चुनाव से पहले गुजरात की राजनीति में कई बदलाव आए हैं। वहां पर राज्यसभा चुनाव घोषित होने के बाद कांग्रेस के आठ विधायक इस्तीफा दे चुके हैं। इससे कांग्रेस की दो तय मानी जा रही सीटों में से अब एक ही उसके पास आ सकती है, जबकि भाजपा की सीटों की संख्या दो से बढ़कर तीन हो सकती है। कांग्रेस के दूसरे नंबर के उम्मीदवार भरत सिंह सोलंकी के लिए खतरा पैदा हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + one =