रेहाना फातिमा ने कपड़े खोल बच्चों से कराया बॉडी पेंट, कहा- नग्नता देखनेवालों की आखों में होती है, FIR

New Delhi : विवादित कार्यकर्ता रेहाना फातिमा ने अपने नाबालिग बच्चों से अपने अर्द्धनग्न शरीर पर पेंटिंग करवाते हुये एक वीडियो फेसबुक और यूट्यूब पर शेयर किया है। पुलिस ने उनके खिलाफ मामला दर्ज किया है। फातिमा ने 2018 में सबरीमला स्थित भगवान अय्यप्पा के मंदिर में प्रवेश करने का भी प्रयास किया था।
पुलिस ने बुधवार को बताया – भाजपा के ओबीसी मोर्चा के नेता ए.वी. अरुण प्रकाश की ओर से मंगलवार को मिली शिकायत के आधार पर पतनमतिट्ठा जिले की तिरुवाला पुलिस ने सूचना प्रौद्योगिकी कानून और किशोर न्याय कानून के तहत मामला दर्ज किया है।

#BodyArtandPolitics5 വർഷങ്ങൾക്ക് മുൻപ് ഞാൻ കൈരളി ഓൺലൈനിൽ എഴുതിയ ഒരു ലേഖനത്തിൻറെ google പരിഭാഷയാണിത്…

Posted by Rehana Fathima Pyarijaan Sulaiman on Thursday, June 18, 2020

फातिमा ने #बॉडी एंड पॉलिटिक्स शीर्षक से यह तस्वीर पोस्ट की है, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस बीच, बाल अधिकार संरक्षण मुद्दे पर केरल के राज्य आयुक्त ने बुधवार को पतनमतिट्ठा जिले के पुलिस प्रमुख से 10 दिन के भीतर रिपोर्ट देने को कहा है।
वीडियो में दिख रहा है कि रेहाना टॉपलेस होकर लेटी हैं और उनके बच्चे शरीर पर पेटिंग कर रहे हैं। उन्होंने इस वीडियो को फेसबुक और यूट्यूब पर अपलोड करते हुए लिखा कि आंख में संक्रमण की वजह से वह आराम कर रही थीं और इस दौरान उनके बच्चों ने शरीर पर पेंटिंग की। उन्होंने पहले भी सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक तस्वीरें डाली हैं और 18 दिनों के लिए जेल भी जा चुकी हैं।
दरअसल इस पोस्ट के जरिये उन्होंने महिला की जरूरतों, यौन संबंधों को लेकर समाज में एक बंदिश के मसले को उठाने की कोशिश की थी, लेकिन जिस तरह से दो नाबालिग बच्चे इस पेटिंग को बना रहे हैं, उसको लेकर विवाद खड़ा हो गया। अश्लीलता देखने वालों की आंख में फातिमा ने पोस्ट करके लिखा था। पुरुष शरीर की तुलना में स्त्री का शरीर और उसकी नग्नता 55 किलोग्राम से अधिक है। पैर में पहने लेगिंग उत्तेजित करते हैं, जबकि अपने घुटनों के साथ खड़ा हुआ आदमी अपनी छाती पर झुकता है और उसका पैर आधा नग्न होता है, पुरुषों और महिलाओं को इस तरह से शरीर से संपर्क करने के लिये मजबूर करता है जो कतई ठीक नहीं है। यह झूठी यौन चेतना है, जो वर्तमान में समाज को दी जा रही है। जिस तरह सुंदरता देखने वाले की आंखों में होती है, उसी तरह देखने वाले की आंखों में अश्लीलता भी होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− one = 4