सुस्त पड़ी अर्थव्यवस्था पर बोले प्रकाश जावड़ेकर कहा-रेपो रेट में की गई कटौती से सुधरेंगे हालात

New Delhi: केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शनिवार को कहा सरकार सुस्त पड़ी अर्थव्यवस्था में जान भरने के लिए लगातार कई प्रयास कर रही है, भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा रेपो रेट में कटौती करना भी इसी दिशा में एक बड़ा कदम है। उन्होंने कहा कि इससे न केवल उद्योगों में तेजी आएगी बल्कि इससे लोगों को भी फायदा मिलेगा।

लखनऊ में प्रदेश के भाजपा मुख्यालय से मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने कहा “आरबीआई ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है और इस साल पांचवीं बार रेपो दर को कम करने का फैसला किया है। इस फैसले से मासिक किस्तों का भुगतान कम होगा। बैंक लोन सस्ते हो जांएगे और उद्योगों में भी मजबूती आएगी।,”

जावड़ेकर ने कहा, ‘सरकार ने लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए बैंकों को निर्देश दिया है।’ “सरकार ने कॉर्पोरेट करों को भी कम कर दिया है। आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए हमें घरेलू और विदेशी निवेश की आवश्यकता है।” जावड़ेकर ने कहा कि वहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने निवेश में तेजी लाने के लिए 15 कैबिनेट बैठकों में 110 फैसले लिए हैं जो कि रोजगार सृजन और मेक इन इंडिया की पहल को बढ़ावा देंगे,”

बता दें रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को मौद्रिक नीति की समीक्षा पेश की। इसमें रेपो रेट में 25 बेसिस पॉइंट यानी चौथाई फीसदी तक की कटौती की गई है। रेपो रेट घटने के बाद बैंक भी ब्याज दर घटाएंगे और लोगों के होम लोन, ऑटो लोन आदि की ईएमआई कम हो जाएगी। इसके साथ ही इस साल अब तक ब्याज दर में 1.35 फीसदी तक की कटौती हो चुकी है। रेपो रेट घटकर अब 5.15 फीसदी रह गई है। उम्मीद है कि बैंक दिवाली से पहले इसका फायदा ग्राहकों तक पहुंचाएंगे।