रीयल लाइफ : ऑनलाइन लूडो में हारा तो पति ने पत्नी को खूब पीटा, स्पाइनल कॉड ही तोड़ डाला

New Delhi : रील और रीयल लाइफ का फर्क आज वडोदरा की एक घटना ने पूरी दुनिया के सामने उजागर कर दिया। विराट कोहली-अनुष्का शर्मा, दीपिका पादुकोण-रणवीर सिंह जैसी सेलेब्रिटी हस्बैंड वाइफ की जोड़ियां जहां आनलाइन लूडो खेलकर लॉकडाउन का लुत्फ उठा रहे हैं और अपने लूडो खेलने के वीडियो, फोटो इंस्टाग्राम पर शेयर कर सोशल मीडिया प्लैटफार्म की दुनिया में आग लगा दे रहे हैं वहीं वडोदरा में एक हस्बैंड वाइफ के बीच आनलाइन लूडो बड़े विवाद का कारण बन गया। विवाद इस कदर बढ़ गया कि पत्नी हॉस्पिटलाइज्ड हो गई और दोनों के बीच डायवोर्स की नौबत आ गई।

लॉकडाउन में चारो तरफ सन्नाटा और पुलिस चौकसी

दरअसल पत्नी ने अपने पति को इस ऑनलाइन गेम में तीन से चार राउंड लगातार हराया। लगातार हार रहा पति अपनी हार बर्दाश्त नहीं कर सका। वो पत्नी से बहस करने लगा कि वो गलत तरीके से गेम खेलकर उसे हरा रही है। दोनों में इसको लेकर झगड़ा शुरू हो गया। झगड़ा इस लेवल पर गया कि पति अपनी पत्नी को पीटने लगा। उसने अपनी पत्नी को बहुत बुरे तरीके से पीटा। ऐसा पीटा कि पत्नी की स्पाइनल कॉड ही टूट गई। पत्नी को घायल होने के बाद हड्डी रोग विशेषज्ञ के पास ले जाना पडा। जहां पता चला कि उसके स्पाइनल कॉड में दो जगह फ्रैक्चर है।
डॉक्टर से इलाज के बाद पत्नी अपने पति को छोड़कर अपने मायके जाना चाहती थी लेकिन पति माफी मांग रहा था। ऐसे में हॉस्पिटल की ओर से अभयम काउंसलिंग सेंटर को इसकी जानकारी दी गई, जिन्होंने पति पत्नी के बीच पंचायत कर मामले को सुलझाने में पूरी मदद की। अभयम काउंसलिंग सेंटर के प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर चंद्रकांत मकवाना ने बताया – पत्नी अपने पति का आर्थिक सहयोग भी करती है। होम लोग आदि कर्ज के बोझ को कम करने के लिये पत्नी घर पर ट्यूशन देती है। पति एक निजी इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी में काम करता है। महिला ने घर पर ट्यूशन देना शुरू कर दिया और ब्यूटीशियन का कोर्स भी किया ताकि वो घर चलाने में पति का ज्यादा से ज्यादा सहयोग कर सके। लेकिन पति को यह भी नागवार गुजरता था। वो अपने आपको हारा हुआ महसूस करता था।
इसी बीच जब पूरे देश में लॉकडाउन हुआ तो पति आासपास के लोगों के साथ गप्पे मारकर टाइम पास करता था। कोरोना की वजह से पत्नी डरी हुई थी और पति को घर में ही रोके रखने के लिये उसने ऑनलाइन लूडो जैसे गेम्स को जरिया बनाया। आनलाइन गेम्स खेलने के लिये बहुत मुश्किल से पति को राजी किया। काउंसलर ने बताया – पति अपने अहंकार में था। उसे यह बर्दाश्त ही नहीं हुआ कि पत्नी ने कैसे हरा दिया। उसकी पत्नी बुद्धिमान थी और घर को आगे बढ़ाने में भी सहयोग करती थी। इससे पति जलने लगा था। हमने फिर उन दोनों की काउंसलिंग की।
परियोजना कॉर्डिनेटर चंद्रकांत मकवाना ने कहा – हमारे काउंसलर महिलाओं को विकल्प देते हैं कि वे पुलिस शिकायत दर्ज करना चाहती हैं या समस्या का निपटारा करना चाहती हैं। इस मामले में चूंकि पति ने माफी मांगी और महिला ने अपराध दर्ज करने की इच्छा नहीं जताई, इसलिए हमने साथ रहने और वैवाहिक कलह के परिणामों के बारे में परामर्श दिया।
उस आदमी को चेतावनी दी गई थी कि शारीरिक यातना एक अपराध है और उसे अपराध के लिए गिरफ्तार किया जा सकता है। पति को अपनी गलती का एहसास था और उसने पत्नी से बार बार माफी मांगी। काउंसलर ने कहा कि पत्नी अपने माता-पिता के साथ कुछ दिन बिताने के बाद भी उनके पास लौटने को तैयार हो गई। पति से लिखित माफीनामा लिया गया कि वो भविष्य में ऐसा कुछ नहीं करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

forty eight − 47 =