GDP का 5% की नीचे आना आश्चर्यजनक, अर्थव्यवस्था में जल्द आएगा सुधार : आरबीआई गवर्नर

New Delhi: आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने सोमवार को स्वीकार किया कि जीडीपी वृद्धि 5 प्रतिशत की नीचे आना आश्चर्यजनक है। लेकिन उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि अर्थव्यवस्था में उछाल आएगा क्योंकि सरकार ने मंदी पर चिंताओं के बीच निर्यात को उभारने के लिए कई कदम उठाने की घोषणा की है।

गवर्नर ने कहा कि आरबीआई अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए दरों में कटौती कर रहा है क्योंकि पिछले कुछ महीनों से मंदी दिखाई दे रही थी।

गौरतलब है कि भारतीय रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले तेजी से गिर रहा है। हाल ही में भारतीय रुपया इस साल के निचले स्तर 72.25 पर आ गया। इस साल अब तक अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया करीब 3.5% नीचे है।

हाल ही में जारी की गए जीडीपी के आकड़ो के अनुसार जीडीपी विकास दर भी 2019 के पहले तीमाही में 5 प्रतिशत पर आ गई है। वित्त मंत्रालय द्वारा अगस्त महीने के जीएसटी कलेक्शन की जानकारी सार्वजनिक कर दी गई। रविवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, अगस्त में भारत का जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये से घटकर 98,202 करोड़ रुपये रह गया।

गौरतलब है कि देश में आर्थिक मंदी लगातार गहराती चली जा रही है जिसके चलते लोगों की नौकरी जा रही है और वित्तीय सं’क’ट का ख’त’रा गहरा रहा है। हाल ही में ऑटोमोबाइल सेक्टर में गई हजारों नौकरियां चिं’ता का विषय है।तमाम कंपनियाों की हालत भी ख’स्ता है।ऐसे में सरकार को इस समस्या से उबरने के लिए मजबूत कदम उठाने की ज़रूरत है।