लौट के रामदेव घर को आए: विधानसभा चुनावों के लिए मांगे BJP के लिए वोट

New Delhi: योग गुरु बाबा रामदेव जो पिछले कई दिनों से राजनीति से किनारा किए हुए थे, गुरुवार को अपने पुश्तैनी घर भारतीय जनता पार्टी में लौट आए। उन्होंने एक बार फिर जनता से भाजपा के समर्थन में आगामी महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों में वोट करने का आग्रेह किया है। 2014 के लोकसभा चुनावों में रामदेव ने भाजपा के लिए जमकर प्रचार किया था लेकिन इस साल हुए लोकसभा चुनावों में वो दिखे तक नहीं थे। अब जब दो राज्यों में विधानसभा चुनाव होने में कुछ दिन ही बचे हैं तो उन्होंने लोगों से भाजपा के समर्थन में वोट करने की अपील की है।

रामदेव ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के नेतृत्व में केवल भाजपा ही राज्यों और केंद्र में स्थिर सरकार दे सकती है। उन्होंने कहा “एक स्थिर सरकार लोकतंत्र में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है, चाहे वह केंद्र में हो या राज्यों में हो। अमित शाह और मोदी जी ने अनुच्छेद 370 को निरस्त करके राजनीतिक साहस का सबसे बड़ा कार्य किया है। यह दर्शाता है कि मोदी और शाह देश में राजनीतिक स्थिरता ला सकते हैं।”

उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में कुछ सामाजिक-राजनीतिक बाधाएँ हैं और विश्वास व्यक्त किया कि मोदी-शाह की जोड़ी में इन चुनौतियों से पार पाने की क्षमता है। रामदेव ने कहा: “अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होना चाहिए। सामाजिक और राजनीतिक स्तरों पर कुछ बाधाएं हैं। मोदी जी और अमित शाह जी में इन चुनौतियों को पार करने का साहस है।”

पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के सह-संस्थापक रामदेव ने कहा, “क्या आप एक ऐसे नेता का नाम ले सकते हैं जो फडणवीस जी के अलावा महाराष्ट्र में भी स्थिर नेतृत्व दे सकता है। वहीं हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर के अलावा ऐसा कोई नेता नहीं है।” हरियाणा में लोगों से भाजपा वोट देने का आग्रह करते हुए, उन्होंने आगे कहा: “मैं गारंटी दे सकता हूं कि खट्टर जी कभी भी बेईमान नहीं हो सकते। उनका कोई व्यक्तिगत हित नहीं है। वह एक अच्छे इंसान हैं और उन्होंने अच्छा नेतृत्व दिया है।”  बताते चलें हरियाणा और महाराष्ट्र में चुनाव 21 अक्टूबर को होने वाले हैं। मतों की गिनती 24 अक्टूबर को होगी।