राजनाथ बोले- महात्मा गांधी हमारे आदर्श, गोडसे को देशभक्त मानने की सोच निंदनीय है

New Delhi : भोपाल से भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने बुधवार को संसद में महात्मा गांधी के ह’त्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया। इसके बाद, विपक्षी नेताओं ने इसकी जमकर आलोचना की।

संसद में प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर विपक्ष ने हंगामा किया है। राजनाथ ने कहा है कि महात्मा गांधी हमारे आदर्श हैं। गोडसे को देशभक्त मानने की सोच निंदनीय है।

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष JP नड्डा ने प्रज्ञा ठाकुर के बयान की निंदा की है। उन्होंने कहा है कि पार्टी प्रज्ञा के बयान का समर्थन नहीं करती है। हमने तय किया है कि प्रज्ञा ठाकुर को रक्षा समिति से निकाला जाएगा और वो इस सत्र की किसी संसदीय बैठक का हिस्सा नहीं बन सकेंगी

वहीं संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने उनका बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने (प्रज्ञा ने) कभी भी नाथूराम गोडसे का नाम नहीं लिया।

दरअसल, द्रमुक के ए.राजा ने सदन में गोडसे का एक बयान पढ़ा, जिसमें उन्होंने बताया था कि गोडसे ने महात्मा गांधी को क्यों मारा था। इस पर प्रज्ञा ठाकुर ने उन्हें टोकते हुए कहा कि आप एक ‘देशभक्त’ का उदाहरण नहीं दे सकते।

जोशी ने बुधवार को एक न्यूज एजेंसी को बताया, उनका (प्रज्ञा का) माइक्रोफोन बंद था। जब उधम सिंह का नाम लिया जा रहा था तो उन्होंने आपत्ति जताई थी। उन्होंने इस पर स्पष्टीकरण भी दिया और बताया कि यह उनका व्यक्तिगत मामला है।

उन्होंने कभी भी गोडसे या किसी अन्य का नाम तक नहीं लिया। उनके नाम लेने का कोई रिकॉर्ड भी नहीं है। इस तरह की खबरों को फैलाना कतई सही नहीं है।